भारत के इस छोटे शहर में पानी के भीतर चलेगी ट्रेन, रेलवे की ख़ास परियोजना

0
62

भारत के किस शहर मे चलेंगी पानी के अंदर ट्रैन ?


कई देशों के मुकाबले तकनीकी रूप से भारत अभी भी बहुत पीछे है और भारत में तकनीकी विकास को बढ़ाने के लिए अब कोलकाता रेलवे कोलकाता के हुगली नदी में अंडरवाटर मेट्रो की परियोजना शुरू करने वाली है। जी हाँ, आप भी पानी के भीतर चलने वाली ख़ास मेट्रो ट्रेन का अभूत अनुभव उठा सकेंगे। चलिए इसके बारे में थोड़ा ज्यादा जानते हैं।

इतनी तेजी से चलेगी मेट्रो

मेट्रो का विकास शुरू कर दिया गया है। इसके लिए मेट्रो रेल लाइन का निर्माण कार्य पूर्ण रूप से संपन्न हो गया है। यह मेट्रो पानी के भीतर बनाए गए एक पारदर्शी टनल के अंदर चलेगी। पानी के भीतर चलने वाली इस मेट्रो की गति 80 किलोमीटर प्रति घंटा तक रहेगी। कुछ ही दिनों में उठा सकेंगे लुफ्त पता चला है कि कमिश्नर रेलवे सेफ्टी ने इस टनल और ट्रेन की जांच पूरी कर ली है और उसे सुरक्षित भी बताया है। इस ट्रैक की दूरी लगभग ५ किलोमीटर की ही है। जल्द ही यहाँ पर ट्रेन दौड़ने की मंजूरी मिलेगी और आम जनता भी इस ट्रेन में सफ़र कर अंडरवाटर ट्रेन का लुफ्त आसानी से उठा सकेंगे। इस सफ़र में कोई भी खतरा नहीं होगा क्योंकि, इसका निर्माण अच्छे इंजीनियर की निगरानी में किया जा रहा है जो पूरी तरह से सुरक्षित होगा।

Read more: चंद्रयान- 2 की लॉन्चिंग में आई बाँधा, जाने क्या है बड़ी वजह ?

कोलकाता में दौड़ेगी यह ट्रेन

यह ट्रेन भारत में अंडरवाटर चलने वाली पहली ट्रेन है। यह ट्रेन कोलकाता में पानी के नीचे बनाए गए टनल ट्रैक के ऊपर चलेगी।
विश्व की सर्वोत्तम तकनीक वाली होगी यह ट्रेन रेलमंत्री पियूष गोयल के बयान के अनुसार भारत में यह ट्रेन ऐसी पहली ट्रेन है जो पानी के भीतर दौड़ेगी जिसका निर्माण कोलकाता मेट्रो ने कराया है। यह ट्रेन पानी के भीतर 5 किलोमीटर की सफ़र तय करने के बाद आम मेट्रो ट्रैक पर दौड़ना शुरू करेगी। पियूष बताते हैं कि ट्रैक और टनल का निर्माण करने के लिए विश्क की सर्वोत्तम तकनीकों का इस्तेमाल किया गया है। इस बात से यह सुनिश्चित हो जाता है कि इस टनल के भीतर रेल की सवारी करने से किसी भी तरह का खतरा नहीं है। क्योंकि, इसका निर्माण सर्वोत्तम तकनीक का प्रयोग कर बड़ी कड़ी निगरानी के साथ किया गया है।

2021 तक शुरू कर दिया जाएगा

इस ट्रेन को दौडाने की परियोजना का कार्य 2009 से ही कार्यरत है। रेलवे कर्मचारी के कुछ वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा यह कहा जा रहा है कि 2021 तक यहाँ पर ट्रेन चलने लगेगी और आम जनता उसमे सफर कर सकेगी। इस ट्रैक से नियमित रूप से लगभग 10 लाख जनता रोज सफर करेगी।

हुगली नदी के नीचे चलेगी ट्रेन

ट्रैक का निर्माण कोलकाता के हुगली नदी पर किया गया है जिसे तैयार करने में कुल 5000 करोड़ की लागत लगी है। कोलकाता भी विश्व के उन देशों की श्रेणी में शामिल हो गया है जहां अंडरवाटर ट्रेन चलती है।लंदन, न्यूयार्क, सैन फ्रांसिस्को, सिंगापुर और हांगकांग जैसे विश्व के कई बड़े शहर अंडरवाटर ट्रैक के लिए प्रसिद्ध हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.com