कठुआ रेप केस मे हुआ इन्साफ, देश की कई बेटियों को है न्याय का इंतज़ार

0
35

#justiceforasifa -आखिर कितनी बेटियों को करना होगा न्याय का इंतज़ार ,नहीं थम रहा सिलसिला


भारत में आपको हर दिन खबरों में एक रेप केस जरूर देखने मिल जायेगा जो आपकी रूह को झिंझोड़ देंगे.  बस नाम बदलते रह जायेंगे लेकिन कृत्य और घिनोने होते जायेंगे. भारत की न्याय प्रणाली में रेप और महिलासुरक्षा के लिए जगह तो बनायीं गयी है लेकिन अमल अब तक नहीं हो पा रहा है.  आखिर क्या वजह है की रेप के आंकड़े दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं. यदि सही समय रहते भारत को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनादिया जाता तो किसी माँ बाप को अपनी बेटी के लिए न्याय का इंतज़ार न करना पड़ता.

kathua rape case

यहाँ भी पढ़ें:नहीं रहे बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गिरीश कर्नाड

एक बेटी को मिला न्याय,सैकड़ो अब भी बाकी?

10 जनवरी 2018 को कठुआ में 8 साल की एक मासूम लड़की अपने घर नहीं लौटी ,करीब तीन दिन बाद लड़की की लाश झाड़ियों में पायी गयी. मेडिकल रिपोर्ट से ज्ञात हुआ की बच्ची के साथ कई बार सामूहिक दुष्कर्मकिया गया और बाद में पथरो से उसकी हत्या कर डी दी.इस मामले ने पूरे देश को झिंझोड़ के रख दिया. इस घिनोंने कृत्य ने हर किसी की रूह तक हिला दी थी. इस पूरी घटना में 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया थाजिसमे एक  नाबालिक शामिल था. मामला संजीदा होने के कारण इसे जम्मू कश्मीर से बाहर भेज दिया गया.सभी सुनवाई कठुआ से 30 किमी दूर पठानकोट में की गयी. आज कोर्ट ने सभी आरोपियों को दोषी करार कर दिया है. साथ ही सातवे नाबालिक आरोपी को बरी कर दिया है.

जानिये कौन है मुख्य आरोपी

1. ग्राम प्रधान सांजी राम (मुख्य आरोपी)
2. स्पेशल पुलिस ऑफिसर दीपक खजुरिया,
3. रसाना गांव परवेश दोषी,
4. असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर तिलक राज,
5. असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर आनंद दत्ता,
6. पुलिस ऑफिसर सुरेंद्र कुमार .

लगातार मासूम बच्चियां बन रहीं हैं शिकार क्या है प्रावधान?

हाल ही में एक और केस सामने आया है जिसमे मात्र 3  साल की मासूम के साथ दो व्यक्तियों ने रेप कर उसे एसिड से जला दिया था. यही नहीं बल्कि आये दिन ऐसे केस सुनना अब आम हो गया है.हर वर्ष 24,000 रेपकेस दर्ज किये जाते हैं ,ये कोई छोटा मोटा आंकड़ा नहीं है जिसे नज़रअंदाज़ किया जा सकता है. इन सभी मामलो पर गंभीरता से सोचने व न्याय प्रणाली में बदलाव लाने की सख्त जरुरत है .

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in