Categories
एजुकेशन

HPU में विद्यार्थियों के परीक्षा में ही फेल होने के कारण प्रतिशत में संशोधन

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में भारी तादाद में विद्यार्थियों के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा में ही फेल होने के बाद विश्वविद्यालय ने पास होने के लिए प्रतिशत संशोधित किया है। इस संशोधित के तहत अब कुल मिलाकर 45 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले विद्यार्थी उत्तीर्ण माने जाएंगे।

दरअसल इससे पहले आंतरिक और बाहरी परीक्षाओं में कम से कम 45-45 प्रतिशत तथा पूर्ण योग में भी 45 प्रतिशत अंक प्राप्त करना जरूरी था और इससे बड़ी संख्या में विद्यार्थी फेल हो गए थे।

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय

यह निर्णय  कुलपति एडीएन बाजपेयी की अध्यक्षता में हुई एक उच्चस्तरीय बैठक में लिया गया है। इस बैठक में प्रधान सचिव, उच्च शिक्षा निदेशक, प्रो-वीसी, ईसी सदस्य, विधायक बाबर ठाकुर आदि शमिल हुए थे। इस संशोधित का परिणाम 17 सितम्बर तक घोषित कर देने का निर्देश दिया गया है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments