हॉट टॉपिक्स

जाने कोरोना की तीसरी लहर से कैसे निपटने के लिए तैयार है सरकार

कोरोना की तीसरी लहर से कुछ इस तरह निपटेगी सरकार


पिछले साल से फैला कोरोना अभी भी रुकने का नाम नहीं ले रहा है अभी हमारे देश में कोरोना की दूसरी लहर की तबाही थमी भी नहीं है कि वैज्ञानिकों ने कोरोना की तीसरी लहर के आने का ऐलान कर दियाऔर सभी लोगों को एक नए संकट की चेतावनी दे डाली है। ऐसे में सभी लोगों के मन में ये सवाल उठने लगा है कि एक तरफ तो कोरोना की पहली और दूसरी लहर ने हमारे पूरे स्वास्थ्य सिस्टम की पोल खोलकर रख दी है ऐसे में अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है तो हमारी सरकार इससे कैसे निपटेंगी। जहां वैज्ञानिकों ने कोरोना की तीसरी लहर के आने का ऐलान कर रखा है तो वही सभी लोग डर भी रही है कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए सरकार ने कोई ठोस तैयारी अभी से की है या नहीं। तो चलिए विस्तार से जानते है कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए सरकार ने क्या तैयारियां की है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की मुलाकात

आज मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। उनकी यह मुलाकात लगभग दो घंटे की थी। इस मुलाकात में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की तीसरी लहर के बारे में बात की। साथ ही साथ उन्होंने राज्य सरकार के एक साल के कार्यकाल समेत तमाम मुद्दों पर चर्चा की। इस बैठक की जानकारी खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर दी। शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर बताया कि आज नई दिल्ली में उनकी भेट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हुई। इस बैठक में उन्होंने मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया। इसके साथ ही साथ उन्होंने कोरोना नियंत्रण को लेकर राज्य के द्वारा अब तक किए गए प्रयासों की जानकारी दी। इतना ही नहीं उन्होंने तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारियों पर भी बात की।

कोरोना की तीसरी लहर

और पढ़ें:  जानें नुसरत जहां की प्रेग्नेंसी में किसके साथ जुडा रहा है नाम

कोरोना की तीसरी लहर

कोरोना की अगली लहर की तैयारी’

कोरोना की तीसरी लहर के लिए देश कितना तैयार है ये तो समय के साथ ही पता चलेगा। अगर हम दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल की बात करें तो दिल्ली में कोरोना मरीजों की देखभाल करने के लिए 5000 युवाओं को उनके द्वारा 2-2 हफ़्ते की ट्रेनिंग दी जाएगी। कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए युवाओं को ये ट्रेनिंग आईपी यूनिवर्सिटी दिलवाएगी। सभी युवाओं को दिल्ली के 9 बड़े मेडिकल इंस्टीट्यूट में बेसिक ट्रेनिंग की सुविधा मिलेगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के अनुसार युवाओं की ट्रेनिंग होने के बाद स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ेंगी। उनके अनुसार इन लोगों को कोरोना मरीजों को मास्क लगवाने, उन्हें ऑक्सीजन लगवाने और सैनेटाइज करने जैसे बेसिक कामों की ट्रेनिंग दी जाएगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।