कितना आसान है शीर्षासन करना और ये कैसे रखता हैं आपके मसल्स को मजबूत?

0
head standing benefits

शीर्षासन कैसे दिलाता है माइग्रेन से छुटकारा


गलोइंग स्किन और हेल्थी रहने के लिए जरूरी है रोजाना सुबह उठकर योग करना। योग आपको अदंर से स्ट्रोंग करता है और आपके चेहरें पर भी निखार लेकर आता है। योग में कईं सारे आसान होते हैं जिनमे से एक आसान है- शीर्षासन। शीर्षासन योगासन को हैडस्टैंड पोज़ भी कहते हैं। शीर्षासन के कई सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं।

शीर्षासन को रोज़ाना करने से शरीर के प्रत्येक अंग को फायदा मिलता है और यह आपको शारीरिक और मानसिक दोनों तरीको से आपको स्वस्थ रहने में मदद करता है। लेकिन इस आसन को करना इतना आसान नहीं है। इसे अच्छे से करने के लिए आपको रोज़ाना इस आसान का अभ्यास करना होगा।

सबसे पहले जानते हैं की शीर्षासन कैसे किया जाता हैं

1. शीर्षासन करने के लिए सबसे पहले अपने दोनों हाथों की उंगलियों को एक दूसरे में फंसालें और फिर अपने सिर को दोनों हाथों के बीच में रखे।

2. अब सिर के ऊपरी हिस्से को जमीन से मिलाकर और पैरों के अंगूठों पर बैलेंस बनाने की कोशिश करें।

3. धीरे-धीरे पैरों को आगे बढ़ाते हुए सिर की तरफ लेकर आये।

4. उसके बाद पैरों को धीरे- धीरे आसमान की तरफ लेकर सीधा उठाएं और गहरी सांस लेते रहें। फिर उसी  पोजीशन में खुद को होल्ड रखे।

5. इसी तरह पैरों को घुटनों से मोड़कर सीने के पास लाएं और फिर अंगूठों को जमीन पर रखकर पैर सीधे करें। अब रिलैक्स पोजीशन में आ जाएं।

अब जानते हैं की इसके क्या फायदें हैं

1. शीर्षासन करने के कई सारे फायदें हैं जैसे की यह आपको सिर दर्द और माइग्रेन से राहत दिलाता हैं. शीर्षासन से आपके दिमाग के हिस्सों को पूर्ण पोषण मिलता है जिससे ये बेहतर काम करे। लेकिन जब  सिरदर्द हो तब शीर्षासन का अभ्यास नहीं करना चाहिए।

2. इसके इलावा यह आपके बाजुओ को और भी ज्यादा मज़बूत करता हैं क्योंकि जब आप यह आसन करते हैं तब आपकी फोरआर्म्स और शोलडर्स का अधिक इस्तेमाल होता है। यह कंधे और बाजू की मांसपेशियों को  मजबूत बनाता है और स्टेमिना में बढ़ाता है

3. साथ ही यह तनाव को भी कम करता हैं

4. इस आसन को करने से बालों का टूटना भी कम होता हैं

और पढ़ें: शहद रखता है आपको इन सभी बीमारियों से दूर: कैसे करे इसका उपयोग?

इस आसन को करने के दौरान इन बातों का रखें खास ध्यान

1. इस आसान को करने के दौरान यह ध्यान दें की आपको कमर, सिर या गर्दन में पहले से कोई चोट न लगी हो या अंदरूनी कोई समस्या न है तभी इस आसन  को करे

2. इस आसन को करने से पहले एक्सपर्ट से सिखे।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here