भारत

हरियाणा सरकार ने कई जिलों की बढ़ाई सुरक्षा, वार्ता विफल होने से फिर से हो सकता है आंदोलन

जाट आंदोलन को लेकर जाट नेताओं ने सरकार को अपनी मांगो पर विचार करने के लिए दिया हुआ समय गुरुवार को समाप्त हो गया। हरियाणा सरकार ने शुक्रवार को जाट नेताओं को बातचीत के लिए बुलाया है।

जाट नेताओं का कहना है की अगर सरकार ने साथ हमारी बात सफल नहीं हुई तो हम फिर से आंदोलन करेंगे। जिसकी वजह से राज्य सरकार ने संवेदनशील जगहों पर अर्धसैनिक बलों को तैनात कर दिया है, और साथ ही रोहतक समेत कई जगहों पर इंटरनेट बैन कर दिया है। जिससे की होने वाले आंदोलनों को रोका जा सके। साथ ही चालू बजट सत्र में आरक्षण पर विधेयक पारित कराने का भी आश्वासन दिया।

सरकार ने 800 अर्धसैनिक बलों के जवानों को रोहतक और झज्जर जैसी संवेदनशील जगहों पर तैनात किया है, पिछले माह में हुए जाट आन्दोलन में यह जिले बहुत अधिक प्रभावित हुए थे।

आप को बता दें, जाट नेताओं सरकार को अपनी मांग पर विचार करने के लिए 72 घंटों का समय दिया था, जो गुरुवार को समाप्त हो गया। जिसके बाद वे आज वे शुक्रवार को हरियाणा राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक के साथ बात करने के बाद ही आगे की कार्यवाही पर विचार करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।