Hantavirus Facts: हंता वायरस से परेशान ना हो और न फैलाये झूठी खबर

0
112
Hantavirus Facts

कोरोना वायरस के बाद अब चीन में हंता वायरस का कहर: क्या है इसके पीछे का सच


Hantavirus Facts: कोरोना वायरस के संक्रमण से पहले ही पूरी दुनियाभर परेशान है। वायरस दुनिया भर में तेजी से फैलता जा रहा है। भारत, अमेरिका, इटली, समेत कई देशों में हर दिन कोरोना वायरस के नए-नए  मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में आपको घबराना नहीं है और न ही झूठी  खबर फैलानी है ये समय डरने का नहीं है। इस समय सबको एक साथ होकर इस मुसीबत का सामना करना है इस समय पूरी दुनिया इस पर नियंत्रण पाने के लिए  जीतोड़ कोशिश में लगी है। इसी लिए आपको भी इसमें अपना योगदान देना है। सबको अपने घर पर रहना है घरो से बाहर  नहीं जाना।
साथ ही ये भी सच है कि कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला देश है चीन। इसी बीच एक नए वायरस ने एक बार फिर चीन की चिंता बढ़ा दी है। इस वायरस का नाम है- हंता वायरस। इस वायरस से चीन में एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। लेकिन आपको बता दे की हंता वायरस हवा के जरिए नहीं फैलता और ना ही लोगो के संपर्क में आने से फैलता है। इसलिए आपको इससे डरने की जरूरत नहीं है

क्या है हंता वायरस?

हंता वायरस का पहला केस चीन के यूनान से मिला था और वहा इस वायरस से एक व्यक्ति की मौत भी हो गई। विशेषज्ञों के अनुसार हंता वायरस चूहों और गिलहरियों के संपर्क में आने के कारण फैलता है। अभी तक किए गए शोध के अनुसार यह वायरस हवा के जरिए नहीं फैलता और ना ही लोगो के संपर्क में आने से फैलता है । लेकिन अगर कोई व्यक्ति चूहा या गिलहरी के संपर्क में आता है तो, उसे हंता वायरस का संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है। जिसके कारण इंसान की मौत भी हो सकती है। इस लिए जितना हो सके चूहो और गिलहरी से दूर रहे। अपने आस पास सफाई रखें।

और पढ़ें: क्या एक बार ठीक होने के बाद दोबारा हो सकता है कोरोना?

क्या है हंता वायरस के लक्षण

हंता वायरस के लक्षण को आप बड़ी आसानी से पहचान सकते हैं।  जब कोई इंसान हंता वायरस से संक्रमित होगा तो, उसे 101 डिग्री के ऊपर बुखार होता है, उसकी मांसपेशियों में दर्द रहता है और उसे सिर दर्द भी महसूस होता है। इसके साथ-साथ हंता वायरस से संक्रमित व्यक्ति को मतली, उल्टी और पेट दर्द की समस्या भी होती है। साथ ही साथ त्वचा पर लाल दाने भी उभरने लगते हैं।

क्या है हंता वायरस के बचाव?

वैज्ञानिक इसके संक्रमण को रोकने के लिए लगातार अध्ययन कर रहे हैं। डॉक्टरों के द्वारा यह भी कहा गया है कि लोगों को इससे घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि यह केवल चूहा और गिलहरियों के ही संपर्क में आने से फैलता है। फिलहाल एहतियात के तौर पर आप भी अपने आसपास मौजूद चूहों और गिलहरियों से दूरी बनाए रखें।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com