यहाँ जाने जुनून की कहानी :शरीर पर 103 टैटू बनवाकर किया रिकॉर्ड दर्ज

0
tejasvini

शरीर पर 103 टैटू बनवाने के साथ ही दर्ज़ किया रिकॉर्ड


शरीर पर टैटू बनवाना कोई नई बात नहीं है. आम लोगों से लेकर सेलिब्रिटीज़ तक के बीच टैटू बेहद पॉपुलर है. कई बॉलीवुड सितारों ने अपने बच्चों के नाम बनवा रखे हैं तो किसी ने भगवान की आकृति, लेकिन मुंबई की टैटू गर्ल का टैटू लव इतना अनोखा है कि इसके चक्कर में उन्होंने रिकॉर्ड बना डाला है.

मुंबई की रहने वाली 21 साल की तेजस्वी प्रभुलकर टैटू के पीछे पागल है, लेकिन उनकी टैटू के प्रति ये दीवानगी घरवालों को बिल्कुल पसंद नहीं है. उनके इस अजीब शौक के कारण उनके दोस्त भी उन्हें पागल कहते थे,दुनिया के लाख मना करने पर भी अपने पैशन को फॉलो केर तेजस्विनी ने न सिर्फ रेकॉर्डबनाया बल्कि तेजस्वी के इसी पागलपन ने उन्हें अब मशहूर भी  कर दिया है.

लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड में नाम दर्ज

टैटू गर्ल तेजस्वी प्रभुलकर कॉलेज स्टूडेंट हैं और अब तक उन्होंने अपने शरीर परएक दो नहीं  बल्कि  103 टैटू बनवा डाले हैं. सिर्फ़ 4 सालों में ही तेजस्वी ने इतने सारे टैटू बनवाए हैं, जिसकी वजह से उनका नाम लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया है.

अपनी लगन के लिए घरवालों से भी लड़ पड़ी तेजस्विनी

तेजस्वी के शरीर पर ढेर सारे टैटू बने हैं, लेकिन उनके मुताबिक, सबसे पहला टैटू उन्होंने अपने नाम का ही बनवाया क्योंकि लोग उन्हें गलत नाम से बुलाते थे, सही नाम बोलने के बजाए तेजस्विनी या तेजश्री कहते थे. बेटी के इस अजीब शौक से माता-पिता बहुत परेशान थे, उन्होंने तो यहां तक कह दिया था कि टैटू बनवाने से उसकी शादी नहीं होगी, लेकिन इन सब बातों से टैटू की प्रति तेजस्वी की दीवानगी कम नहीं हुई.

यहाँ भी पढ़े: International Dance Day : जाने कब हुई थी इस दिन की शुरुआत

हर तत्तो कहता है एक कहानी

रिकॉर्ड बनाने के साथ ही तेजस्वी ने इसे ही प्रोफ़ेशन भी बना लिया. वो अब पेशे से एक टैटू आर्टिस्ट पेंटर और मॉडल हैं. तेजस्वी का कहना है उनके हर टैटू का ज़िंदगीसे जुड़ा कुछ ख़ास मतलब होता है. इसे कहते हैं बुलंद हौसला, काम चाहे जो भी हो, दिल से उसे पूरा करना चाह हो तो मंज़िल मिल ही जाती है.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here