लॉकडाउन में फंसी महिलाओं और लड़कियों को दिए जा रहे हैं सैनेटरी नैपकिन और हैंडवॉश – क्यूंकी ये जरूरी हैं !

0
35
free sanitary napkin scheme

महिलाओं और लड़कियों को दिए जा रहे है मुफ्त सैनेटरी नैपकिन और हैंडवॉश


जैसा की हम लोग जानते है की अभी पूरा देश कोरोना वायरस के कारण परेशान है। और बहुत से देशो में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन लगाया गया है। भारत में भी 21 दिन का लॉकडाउन लगा हुआ है जो की 14 अप्रैल को खुलने को कहा गया था।
लेकिन अभी ये कहना मुश्किल है की लॉकडाउन खुलेगा या नहीं। लॉकडाउन के कारण सभी लोग अपने अपने घरो में है और घर से ही वर्क फ्रॉम होम कर रहे है। भारत सरकार ने भी लोगों से अपील की वो सोशल डिस्टिंग बनाये रखे और जब तक बहुत जरुरी काम न हो घर से बहार न जाये। न किसी को अपने घरो में बुलाये और न खुद कही बाहर जाये। ऐसे में सरकार ने कहा की वो खुद लोगो तक जरुरी सामान पहुचायेगी। ऐसे में हमे सोशल मीडिया से मिली जानकारी से पता चलता। की भारत में कुछ ऐसे जहर भी है जहां लोगो लॉकडाउन में फंसी महिलाओं और लड़कियों को मुफ्त सैनेटरी नैपकिन और हैंडवॉश दिए जा रहे है।

कहा और कैसे दिए जा रहे है महिलाओं को मुफ्त सैनेटरी नैपकिन और हैंडवॉश

सोशल मीडिया से मिली जानकारी से पता चलता है की जो इलाके कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है उनको सील किए जाने का फैसला किया गया है। ऐसे में लखनऊ जिला प्रशासन और नगर निगम आर्थिक तौर पर कमजोर लड़कियों और महिलाओं तक मुफ्त सेनेटरी नैपकिन और हैंड वॉश सैशे पहुंचाएगा।

और पढ़ें: लॉकडाउन के दौरान शादी करना पड़ गया महंगा मेहमान बनकर पहुंच गई पुलिस

सोशल मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया, मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम और जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने महिलाओं और लड़कियों को मुफ्त सेनेटरी नैपकिन और हैंड वॉश सैशे उपलब्ध कराने के लिये छह ”सखी वैन” वाहनों को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।
लड़कियों और महिलाओं तक मुफ्त सेनेटरी नैपकिन और हैंड वॉश सैशे पहुंचने के लिए लखनऊ जिला प्रशासन और नगर निगम ने बताया की ऐसी कुछ जगह है जहा लॉकडाउन के कारण महिलाओं को सेनेटरी नैपकिन की उपलब्धता नहीं है। उन्हें नैपकिन मुहैया कराने के लिए पूरा रूट चार्ट बनाया गया है। और हेल्पलाइन नम्बर 7905323611 भी जारी किया। जिस पर लोग कॉल कर वे चीजें निशुल्क प्राप्त कर सकते हैं।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com