पॉलिटिक्सभारतीये पॉलिटिक्स

महज चार दिनों में योगी ने किए कई बड़े ऐलान

आइये जाने योगी ने किये कौन – कौन से बड़े ऐलान


हाल ही में देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए थे। इन पांच राज्यों में से चार राज्यों में बीजेपी की सरकार बनी है। सिर्फ पंजाब में ही कांग्रेस अपनी साख बचा पाई है। चुनाव पांच राज्यों मे हुए है लेकिन चर्चा सिर्फ एक की है। सिर्फ एक ही राज्य के कामकाज का ब्योरा सबसे ज्यादा मीडिया में छाया हुआ है। हो भी क्यों न यूपी में बीजेपी ने बहुमत की सरकार बनााई है और एक योगी को वहां का मुख्यमंत्री बनाया गया है। अब तो आप समझ ही गए होंगे हम किसकी बात कर रहे हैं- जी हाँ, हम बात कर रहे है योगी आदित्यनाथ। योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बने महज़ वहार दिन हुए है पर इन चार दिनों मे उन्होंने ने कई बड़े ऐलान किये है।

योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ

अजय बिष्ट यानि की योगी आदित्यनाथ यूपी के 21वें मुख्यमंत्री बने हैं। इनके मुख्यमंत्री बनने से पहले केशव मौर्य और मनोज सिंहा का नाम भी सुर्खियों में आया था। लेकिन ताज योगी आदित्यनाथ के सिर पर ही सजा। योगी ने 19 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। पदभार संभालते ही योगी ने कई सारे काम किए हैं।

अभी योगी को अपना पदभार संभाले एक सप्ताह भी नहीं हुआ है। लेकिन इन कुछ दिनों में ही प्रदेश में कई बदलाव और जरुरी ऐलान किए हैं। चलिए जरा उन पर नजर डालते हैं

रोड साइड रोमियो की खैर नहीं

योगी ने मुख्यमंत्री बनते है महिलाओं की सुरक्षा को तव्वजो दिया है। बीजेपी के चुनावी वायदे के हिसाब से राज्य के हर शहर में एंटी रोमियो स्कवॉड बनाने का आदेश दिया गया है। ताकि महिलाओं को घर से बाहर निकलने मे किसी तरह की परेशानी न हो। लोगों का कहना था कि पिछली सरकार इसको लेकर जरा भी ध्यान नहीं देती थी । जिसके कारण कॉलेज की लड़कियों और महिलाओं को कई तरह की परेशानी होती थाी।

अफसरों को पुराना रवैया सुधारने की दी सलाह

योगी अपने सख्त रवैया और सीधी बात करने के लिए जाने जाते है। इसलिए अपना सख्त रवैया दिखाते हुए सरकारी अफसरों को कहा है कि वह सरकारी कामकाज का पुराना रवैया बर्दाश्त नहीं करेंगे। अब यूपी के अफसरों की खैर नहीं है क्योंकि योगी यूपी के मुख्यमंत्री है। योगी का कहना है कि जनता ने बदलाव के लिए हमें चुना है इसलिए उनको यह सबकुछ करके दिखाना होगा ताकि जनता का विश्वास सरकार पर बना रहे।

हूटरों के प्रयोग पर रोक

तीसरे दिन यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने यूपी मंत्रिमंडल के विभागों का बंटवारा किया। सभी मंत्रियों को उनके विभाग बांटे गए। इसके साथ ही सीएम ऑफिस ‘लोक भवन’ में बैठक की गई। बैठक के दौरान योगी ने मंत्रियों से उनके कामों के सुझाव मांगे। साथ ही मंत्रियों को सख्त निर्देश दिया है कि वह हूटर का प्रयोग न करें।

वेबसाइट द्वारा जनमत संग्रह

यूपी में गायों की बढ़ती तस्करी और अवैध बूचडखानों को लेकर योगी सख्त हो गए है। गौहत्या को लेकर मुख्यमंत्री ने एक वेबसाइट बनाई है। जिसके द्वारा गौहत्या को लेकर जनमत संग्रह इकट्ठा किया जा रहा है।
योगी की वेबसाइट है http://www.yogiadityanath.in/ है। इस वेबसाइट पर आप अपने सुझाव भी दे सकते हैं।

बूचड़खानों को बंद करने के निर्देश

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपना काम संभालते ही अपने चुनावी वायदों को पूरा करना शुरू कर दिया । अपने चुनावी वायदे के अनुसार योगी ने यूपी के पुलिस आधिकारियों से बूचड़खाने बंद करने के लिए एक्शन प्लान तैयार करने को कहा। उन्होंने कहा कि पशुओं की तस्करी पूरी तरह बंद होनी चाहिए । साथ ही कहा है कि ऐसे मामलों में कतई ढिलाई न की जाए, नहीं तो ऐसे मामलों में जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जाएं।

पान और प्लास्टिक पर प्रतिबंध

योगी ने सरकारी कार्यलयों, चिकित्सालयों तथा शिक्षण संस्थानों मे पान,गुटखा,तंबाकू, पान मसाले पर तत्काल रोक लगाने को कहा है। इसकी सबसे बड़ी वजह है सरकारी कार्यलयों मे जगह-जगह पान की पीक का दिखाई देना। इसके साथ ही पॉलिथीन के प्रयोग को प्रतिबंधित करने का निर्देश दिया है। ताकि इसके द्वारा स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा दिया जाएं।

थाने का किया मुआयना

अपने कामकाज के चौथे दिन यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अचानक लखनऊ के हजरतगंज पुलिस स्टेशन पहुंचे। यहां पहुंच कर उन्होंने कामकाज का जायजा लिया। पुलिस स्टेशन की स्वच्छता का निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान योगी ने कहा कि अफसरों की तैनाती, उनकी संख्या, काम और सफाई पर यूपी पुलिस को चुस्त दुरस्त करेंगे। साथ ही कहा है कि यूपी में अब कानून का राज होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।