अब लोगों के दिलों से खत्म हो रहा है कोरोना का डर, भूल रहे है अपनी जिम्मेदारी

0
202
coronavirus

जाने क्यों खत्म हो रहा है लोगों के दिलों से कोरोना का डर


अभी कोरोना वायरस के कारण भारत सहित पूरी दुनिया परेशान है कोरोना वायरस के कारण 22 मार्च से पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है जो अभी तक पूरी तरफ हटा नहीं है. कोरोना वायरस को रोकने के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है. इतने लम्बे समय से चल रहे कोरोना वायरस का अब लोगों के दिलों से डर खत्म  होता हुआ दिख रहा है. जहां  एक तरफ देश की राजधानी में एक बार फिर कोरोना के बढ़ते केस सामने आ रहे हैं. वही दूसरी तरफ सड़कों, बाजारों और कॉलोनियों की हालत देख कर विशेषज्ञों की चिंता बढ़ गई है विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना से बचने के लिए लोग अब खुद अपनी जिम्मेदारियों को भूल रहे हैं. अभी कोई मास्क लगाने में एतराज करता है तो कोई सोशल डिस्टैसिंग को समझने की कोशिश नहीं करता. इस समय सभी लोग सरकार से उम्मीद कर रहे है कि सरकार कोरोना की वैक्सीन जल्दी से जल्दी लॉन्च करें. दूसरी तरफ लोग अपनी खुद की जिम्मेदारियों पर ध्यान देने को तक तैयार नहीं है.

और पढ़ें: ग्रामीणों तक स्वास्थ्य सुविधा पहुंचाने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन लॉन्च किया गया

serological survey delhi

क्या कहना है इस पर दिल्ली के डॉक्टर्स का

सोशल मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डॉक्टर्स का कहना है कि एक बार फिर दिल्ली में कोरोना वायरस के केस बढ़ने लगे है. दूसरी तरफ जांच भी दोगुनी रफ्तार से हो रही है. उनका कहना है कि सरकार के यह प्रयास तब तक सफल नहीं होंगे जब तक आम व्यक्ति भी इसमें अपना सहयोग नहीं देगा. उन्होंने कहा अभी लोगों में धीरे धीरे कोरोना के प्रति डर खत्म हो रहा है. अभी लोग घरों से बाहर और बाजारों में जाने से पहले मास्क लगाना जरूरी नहीं समझते. कुछ लोगों के फेस पर मास्क है तो किसी की गर्दन पर, तो कुछ लोगों के हाथ पर. सरकार और दिल्ली पुलिस का कहना है कि ऐसे लोगों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जाएगी और इनकी पहचान हर महीने उजागर भी की जाएगी. इससे फायदा यह होगा कि लोग अपनी जिम्मेदारियों को बेहतर तरीके से समझ सकें.

दिल्ली में कोरोना केस बढ़ने के कई कारण

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली में केस बढ़ने के पीछे कई सारे कारण हैं  दिल्ली की झुग्गी-बस्ती में छोटे-छोटे घरों में बड़ी संख्या में लोग रहते हैं. अगर इनमें से किसी भी एक व्यक्ति को ये वायरस होता है तो बहुत बड़ी परेशानी खड़ी हो जाएगी. दूसरी तरफ अभी दिल्ली से बाहर गए लोग अपने काम पर वापस लौट रहे हैं. यह भी केस बढ़ने का एक कारण है. साथ ही अभी राजधानी दिल्ली के लोग कोरोना वायरस की जांच नहीं करवा रहे हैं. जिन भी लोगों में थोड़े बहुत कोरोना वायरस के लक्षण आ रहे है वो भी अब अपनी जांच कराने को तैयार नहीं है. वह बिना जांच करवाएं ही अपने नजदीकी डॉक्टर से बुखार की दवाएं लेकर खा रहे हैं.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com