Categories
भारत

सर्जिकल स्‍ट्राइक से जुड़ा एक बड़ा खुलासा

सर्जिकल स्‍ट्राइक से जुड़ा एक बड़ा खुलासा


चश्‍मदीदों  का दावा

सर्जिकल स्‍ट्राइक से जुड़ा एक बड़ा खुलासा:- 28 और 29 सिंतबर की देर रात पाकिस्‍तान के कब्‍जे कश्‍मीर में भारत सैनिक के द्वारा किए गए सर्जिकल स्‍ट्राइक से जुड़ा एक बड़ा खुलासा हुआ है। एलओसी के पास रहने वाले लोगों का यह दावा है कि 29 सिंतबर की रात हुए हमले में मारे लोगों के शवों को सूरज निकलने से पहले ही ट्रक में लादकर ले जाया गया और फिर उन शवों का दफन कर दिया गया।

एक अग्रेंजी अखबार ‘द इंडियन एक्‍सप्रेस’ में छपी खबर के अनुसार पांच चश्‍मदीदों ने सर्जिकल स्‍ट्राइक  की पुष्टि की है। एक चश्‍मदीद ने य‍ह कहा है, कि ‘जिहादियों की पनाहगाहों को तबाह किया गया है। साथ ही उस रात दोनो पक्षों के बीच भारी गोलीबारी भी हुई।’ इस बात से इस की पुष्टि होती है, जिसमें भारत सेना ने यह कहा है, कि उन्‍होने आतंकी लॉन्‍च पैड के खिलाफ हमला किया है।

भारत को कई देशों का समर्थन

बात दें, भारत और पाकिस्‍तान दोनो ही देशों ने निशाना बनाए गए ठिकानों की जानकारी सार्वजनिक नहीं की है।  वहीं दूसरी तरफ भारतीय सेना के द्वारा पाकिस्‍तान के खिलाफ की गई कार्रवाई को कई देशों का समर्थन मिला रहा है। ‘अमेरिका, रूस, बांग्लादेश, अफगानिस्‍तान’ जैसे देशों ने भारत के द्वारा की गई कार्रवाई का समर्थन किया है।

प्रतीकात्मक फोटो, भारतीय सिपाही

युद्धविराम का उल्लंघन

पाकिस्तान की सेना की ओर से जम्मू-कश्मीर में एलओसी पर लगातार युद्ध विराम का उल्लंघन किया जा रहा है। अखनूर, मेंढर, नौशेरा और पलानवाला सेक्टर में बीते 24 घंटों में आठ बार से भी ज्यादा युद्धविराम का उल्लंघन किया गया है।

कश्‍मीर के बारामूला में

दो अक्‍टूबर की रात लगभग  साढ़े दस बजे पाकिस्‍तान और भारत दोनो देशों के बीच कश्‍मीर के बारामूला में फायरिंग हुई। जिसमें बीएसएफ का एक जवान श‍हीद हो गया।

सर्जिकल स्‍ट्राइक

28 और 29 सिंतबर की देर रात भारत ने पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर में सर्जिकल स्‍ट्राइक किया। जिसमें आंतकवादियों के छः ठिकानों को निशाना बनाया, साथ ही 38 से ज्‍यादा आंतकवादियों को मार गिराया।

उरी हमला

18 सिंतबर को उरी मे भारतीय सैनिकों पर हमला किया गया। जिसमें 19 जवान शहीद हो गए। इस हमले के पीछे पाकिस्‍तान का हाथ होने का अनुमान है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments