चुनाव आयोग ने योगी और मायावती  पर कि सख्ती

0
mayawati-yogi

अब न होगी रैली और न होगा ट्वीट


लोकसभा चुनाव 2019  को लेकर चुनाव आयोग ने इस बार कड़ी सख्ती दिखाई है जिसके तहत इस बार चुनाव आयोग ने सभी पार्टियों पर आचार सहिंता लागू  की गयी है. जिसको लेकर चुनाव आयोग ने सभी पार्टियों पर अपनी नजर बनाई रखी है. जिसे लेकर चुनाव आयोग ने हाल ही में यूपी  के सीएम  योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती  पर सख्ती  बरती  है

जी हाँ,  चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ और मायावती पर चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दी है. जिसके तहत अब ये रोक योगी के लिए 72 घंटे और मायावती के लिए 48 घंटे तक जारी रहेगी, ये रोक मंगलवार यानि कल 15 अप्रैल कि सुबह 6 बजे से शुरू होगी.

न होगी रैली और न होगा ट्वीट

चुनाव आयोग ने दोनों पर सख्ती करते हुए यह कहा है की न तो कोई चुनावी सभा होगी,न  कोई टीवी इंटरव्यू देना होगा , न कोई राजनीतिक ट्वीट करना है,

और ना कोई  रोड शो करना है. ये रोक दोनों पर इसलिए लगाई गयी है ताकि कोई विवादित बयान न दे सके. क्योंकि हाल ही में  केरल के वायनाड में जब राहुल गांधी के रोड शो में मुस्लिम लीग के झंडे दिखाई दिए थे, तब योगी ने ट्विटर के जरिए ही मुस्लिम लीग के हरे झंडों को देश के लिए वायरस बताया था.

यहाँ भी पढ़े:बीजेपी के नेता ने कि सारी  हदें  पार

वही मायावती पर इसलिए रोक लगाया क्योंकि वह सोशल मीडिया के जरिये पीएम नरेन्द्र मोदी और बीजेपी पर निशाना  साधती रहती है जिसके चलते चुनाव आयोग ने उनपर चुनाव प्रचार के लिए रोक लगा दी है.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here