कहीं नक्सलियों ने नहीं की गौरी लंकेश की हत्या

0
404
गौरी लंकेश के लिए इंसाफ मांगते लोग

हत्या का अंदाजा एक सप्ताह पहले ही लग चुका था


वरिष्ठ कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश हत्या का आक्रोश कर्नाटक से लेकर दिल्ली तक लोगों को बीच मे दिख रहा है। इस बीच राजनीति में इसको लेकर आरोप प्रत्यरोपो का सिलसिला जारी है। जहां केंद्र में एक ओर बीजेपी की सरकार है तो राज्य में कांग्रेस की सरकार आपस में एक दूसरे पर आरोपों की झड़ी लगा रहे है।

गौरी लंकेश के लिए इंसाफ मांगते लोग
गौरी लंकेश के लिए इंसाफ मांगते लोग

आरएसएस ने कांग्रेस को दिखाया रास्ता

आपसी टकराव के बीच कांग्रेस ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा है कि राजनीतिक विचारों और अपनी बेलाग टिप्पणियों के लिए मशहूर गौरी लंकेश की जिस तरह हत्या हुई, उससे सबसे पहले हिंदूवादी विचारधारा निशाने पर आई।

वही दूसरी ओर आरएसएस ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा है हम हत्या की निंदा की और न्याय की मांग भी कह रहे है। और बीजेपी ने कहा है कि बिना सबूत कांग्रेस कोई उंगूली न उठाए। साथ ही कहा है कि कानून-व्यवस्था राज्य का मसला है। केंद्र का नहीं और कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार है।

बहन के बताई थी आपबीती

वहीं एक हिंदी वेबसाइट की खबर के अनुसार लंकेश को अपने पर होने वाले हमले के बारे में पहले से ही अंदेशा हो गया था। पुलिस को दिए बयान में गौरी की बहन कविता लंकेश ने बताया कि एक सप्ताह पहले वह अपनी बीमार मां की हालचाल पूछने आई थी। इसी दौरान उसने अपने बहन को बताया कि उसने अपने घर के आस-पास कुछ अज्ञात लोगों को देखा है। उसकी बहन ने यह पुलिस को बताने को कहा। इस पर गौरी ने कहा कि अगली बार ऐसा कुछ होता है तो वह पुलिस को बताएंगे।

नक्सलियों के लिए काम करती की गौरी

एक तरफ यह भी कहा जा रहा है कि कहीं इस हत्या के पीछे नक्सलियों का हाथ तो नहीं है। क्योंकि एक समाजसेविका होने के नाते वह नक्सल प्रभावित इलाकों में लोगों के बीच में काम करती थी। गौरी उन्हें मुख्यधारा से जोड़ने की कोशिश कर रही थी। इसी दौरान उसने कई नक्सलियों को पुलिस के सामने सरेंडर करवाया था। इसलिए ऐसा कहा जा रहा है कि इस हत्या के पीछे नक्सलियों का हाथ हो सकता है।

अभी तक की जांच में पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा है। वह हर एंगेल को जांचने की कोशिश कर रही है। गौरी के घर के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज के भी खंगलने की कोशिश कर रही है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments