दिवाली पर माँ लक्ष्मी को करे इस प्रकार प्रसन्न

0
39
diwali laxmi pujan 2019

जाने क्या है दिवाली पर पूजा करने का शुभ मुहूर्त


Diwali Laxmi pujan 2019 : दिवाली नजदीक आ गयी है ऐसे में सभी के घरो में साफ़ सफाई होनी भी शुरू हो गयी है, साथ ही पूजा की तैयारीयां भी। शुक्रवार को धनतेरस से शुरू होने वाला पांच का दिनी पर्व जो की 29 अक्टूबर भाई दूज तक चलेगा। घरों की सजवाट के साथ लोग पूजन की तैयारी में जुटे हैं। कल धनतेरस पर्व है जो की भगवान धनवंतरी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है। इस दिन आप वाहन, बर्तन और आभूषण आदि की खरीद कर उसकी पूजा करे ताकि माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद आप पर हमेशा बने रहे, साथ ही अल्प आयु मृत्यु से बचने के लिए घर के बाहर चार ओर से बाती निकालकर दीया भी जलाए।

ऐसे करे दिवाली पर माँ लक्ष्मी को प्रसन्न

ऐसी मान्यता है कि दिवाली के दिन दीपों की रोशनी में मां लक्ष्मी घर में आती हैं। जिस घर से मां अधिक प्रसन्न होती है, उन्हें कभी भी धन की कमी नहीं होती। अगर दिवाली वाले दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करना हो तो इन 33 चीजों को अभी से रख लें और मां लक्ष्मी के साथ भगवान विष्णु, भगवान गणेश और भगवान कुबेर की भी पूजा करें।

मां लक्ष्मी की पूजा में कलावा, रोली, सिंदूर, एक नारियल, अक्षत, लाल वस्त्र, फूल, पांच सुपारी, लौंग, पान के पत्ते, घी, कलश, कलश के लिए आम का पल्लव, चौकी, समिधा, हवन कुण्ड, हवन सामग्री, कमल गट्टे, पंचामृत (दूध, दही, घी, शहद, गंगाजल), फल, बताशे, मिठाईयां, पूजा में बैठने हेतु आसन, हल्दी, अगरबत्ती, कुमकुम, इत्र, दीपक, रूई, आरती की थाली, कुशा, रक्त चंदनद, श्रीखंड चंदन पूजन सामग्री का इस्तेमाल करें और उनकी पूजा करे।

और पढ़े: दिवाली के अगले दिन क्यों की जाती है गोवर्धन पूजा? यहाँ जाने

इस समय पर करे दिवाली पूजा यह है शुभ मुहूर्त

दिवाली पूजन के लिए इस साल दो मुहूर्त उचित हैं। पहला समय फैक्ट्री और कारखानों के लिए तो दूसरा दुकानों और घरों के लिए। फैक्ट्री, कारखानों में पूजन के लिए उपयुक्त समय दोपहर 2:10 से 3:40 बजे के बीच होगा। इस समय स्थिर लग्न कुम्भ होगी। जबकि दूसरा मुहूर्त शाम 6:40 से रात 8:40 बजे के बीच होगा। इस समय स्थिर लग्न वृषभ लग्न होगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com