लाइफस्टाइल

Diwali 2021: जानें छोटी दिवाली पर कितने दीये और कहां-कहां जलाना माना जाता है शुभ

Diwali 2021: जाने छोटी दिवाली के दिन कितने दिए जलाएं जाते हैं


Diwali 2021: दिवाली हिंदूओं का एक सबसे बड़ा त्योहार है और अब दिवाली आने में बस कुछ ही दिन बाकी हैं आपको बता दें कि न्यू एज हीलर ‘पूनम गौर’ के अनुसार छोटी दीवाली के दिन घर में मुख्यतः ग्यारह दीये जलाने का प्रचलन है। इन ग्यारह दीयों में से पहला दीया घर के पूजा पाठ वाले स्थान पर रखना चाहिए जबकि दूसरा दीया घर की रसोई में रखना चाहिए, तीसरा दीया उस जगह जलाना चाहिए जहां आप पीने का पानी रखते है, वही आपको चौथा दीया पीपल के पेड़ या फिर वट के पेड़ के नीचे रखना चाहिए, पांचवां दीया घर के मुख्य द्वार पर जलाना चाहिए और एक दीया घर के उस कोने में रखना चाहिए जहां अधीरा हो और बाकी के बचें हुए 5 दीये घरौंदा के ऊपर रखें जाते है।  तो चलिए आज हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताते है।

अगर आप ग्यारह दीयों से कम या फिर ज्यादा दीये जलाना चाहते है तो आप वो भी कर सकते है। आप और भी दीए जलाना चाहें तो आप 7, 13, 14 या 17 की संख्‍या में भी दीए जला सकते हैं। शायद आपने भी देखा होगा कि कुछ लोग छोटी दिवाली के दिन 14 दीपक जलाते है। लेकिन ये बात तो हम सभी लोग जानते हैं कि हर राज्य की अलग अलग मान्यताएं हैं किसी राज्य में दीये सम संख्‍या में तो किसी राज्य में विषम संख्या में जलाएं जाते हैं। लेकिन इन सबके बीच महत्वपूर्ण यह है कि किस जगह पर कितने निमित्त दीपक जलाएं जाते है।

Diwali 2021: जाने क्यों मनाई जाती है छोटी दिवाली, और इसका महत्‍व

चलिए जानते है दीवाली के दिन कहा कहा रखने चाहिए दीये जला कर

1. आपको बता दें कि छोटी दिवाली की रात को पहला दीया सोते वक्त यम का दिया जाता है लेकिन बता दें कि वो दीया पुराना होना चाहिए और इसमें सरसों का तेल डालकर इससे घर के बाहर दक्षिण की ओर मुख कर कूड़े के ढेर के पास रखा जाता है।

2. उसके बाद दूसरा दीया किसी सुनसान देवालय में रखा जाता है जो कि घी का दीया होता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार यह दीया जलाने से आपको कर्ज से मुक्ति मिलती है।

3. उसके बाद तीसरा दीया मां लक्ष्मी के समक्ष जलाया जाता हैं और चौथा दीया तुलसी के समक्ष जलाया जाता है और पांचवा दीया घर के दरवाजे के बाहर जलाना जलाना चाहिए।

4. आपको बता दें कि छोटी दिवाली की रात को छठां दीया पीपल के पेड़ के नीचे जलाना चाहिए जबकि सातवां दीया किसी मंदिर में जलाकर रखना चाहिए।

4. आपको बता दें कि छोटी दिवाली की रात को छठां दीया पीपल के पेड़ के नीचे जलाना चाहिए जबकि सातवां दीया किसी मंदिर में जलाकर रखना चाहिए।

5. बता दें कि आठवां दीया घर में कूड़ा कचरा रखने वाले स्थान पर जलाना चाहिए जबकि नौवां दीया घर के बाथरूम रखना चाहिए।

6. दसवां दीया घर की छत की मुंडेर पर जलाते हैं और ग्यारहवां दीया घर की छत पर जलते हैं।

7. बारहवां दीया घर की खिड़की के पास जलाना चाहिए और तेरहवां घर की सीढ़ियों पर जलाते हैं या फिर बरामदे में, जबकि चौदहवां दीया रसोई में या फिर जहां पानी रखा जाता है वहां जलाया जाता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।