भारत

वायु प्रदूषण पर नजीब जंग की अध्यक्षता में बैठक, हुए कई बड़े फैसले

वायु प्रदूषण के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ने की बात


वायु प्रदूषण पर दिल्ली सरकार की बैठक

दीवाली के बाद से राजधानी दिल्ली धुंध की लपेट में आई हुई है। दिल्ली – एनसीआर के लोग जहरीली हवा में सांस ले रहे है। इस जहरीली हवा में सांस लेने की समस्या के साथ आंखों में जलन भी हो रही है।  वायु प्रदूषण को गंभीरता से लेते हुए राजधानी दिल्ली के उप-राज्यपाल नजीब जंग ने सोमवार यानी कल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन समेत दिल्ली के तमाम विभागों और एजेंसियों के अफसरों के साथ  एक उच्च-स्तरीय बैठक  की।  इस मीटिंग में वायु प्रदूषण के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ने की बात हुई, साथ ही कुछ बडे फैसले लिए गए।

वायु प्रदूषण
वायु प्रदूषण

यहाँ पढ़ें : केरल के मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को जाने की अनुमति

15 साल पुराने वाहनों पर रोक

इस उच्च-स्तरीय बैठक के बाद एलजी की तरफ से एक बयान जारी किया गया, जिसमें कहा गया, कि 15 साल पुराने डीजल वाहनों को सड़कों से हटाने का काम सोमवार से ही शुरू कर दिया गया है। एनजीटी ने दस साल पुराने वाहनों को हटाने का आदेश दिया था, मगर फिलहाल हम 15 साल पुराने वाहनों के साथ इस मुहिम की शुरुआत कर रहे है। साथ ही यह भी कहा, कि चरण बद्ध तरीके से इन सभी वाहनों को डी रजिस्टर किया जाएगा।  साथ ही 14 नवंबर तक निर्माण और अतिक्रमण हटाने की गतिविधियों पर प्रतिबंध जारी रहेगा।

दिल्ली में पटाखों पर बैन

इस बैठक में एक और बहुत महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है, जिसमें कहा गया है, कि अब दिल्ली में पटाखों पर प्रतिबंध होगा। राजधानी में शादियों और अन्य कार्यक्रमों के दौरान पटाखों पर बैन लगा दिया गया है। मगर,  इस प्रतिबंध से धार्मिक कार्यक्रमों को बाहर रखा गया है।

बता दें, उप- राज्यपाल कार्यालय में एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी है, कि 15 नवंबर को एक बैठक होगी, जिसमें इन सभी फैसलों की समीक्षा की जाएगी।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button