काम की बात करोना

Covid-19: इन राज्यों में बिना मास्क के घर से निकले तो भरना पड़ेगा जुर्माना! कोरोना के नए मामलों से अब तक हुई 30 मौतें

Covid-19 : चीन की शंघाई में कोरोना बेकाबू, भारत में चौथी लहर आने की आशंका तेज़


Highlights-

.  पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2, 541 मामले सामने आये हैं।

. वहीं 30 लोगों की कोरोना से मौत हुई है।

. प्रधानमंत्री मोदी 27 अप्रैल 2022 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए देश की जनता को सम्बोधित करेंगे।

Corona: कोरोना के मामले में फिर से उछाल देखा जा रहा है। पूरा देश कोरोना वायरस के चौथी लहर के कगार पर है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2, 541 मामले सामने आये हैं। वहीं 30 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। भारत में संक्रमण दर की बात करें तो 0.84 फीसदी पर है। वहीं एक्टिव केस 16, 522 हो चुकी है।

आपको बता दें कि देश में कोरोना मामलों में उछाल के पीछे दिल्ली के आँकड़े मायने रखते हैं। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 1, 083 नए मामले सामने आये हैं और एक शख्स ने अपनी जान भी गवाई है। कोरोना वायरस एक संक्रामक बीमारी है जो SARS – coV वायरस के वजह से फैलती है।

बढ़ते कोरोना के मामले को लेकर प्रधानमंत्री मोदी 27 अप्रैल 2022 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए देश की जनता को सम्बोधित करेंगे। इस बैठक में संक्रमण पर चर्चा की जाएगी।

अब तक देश में कोरोना के हाल –

. कुल मामले – 4, 30, 60, 086

. सक्रिय मामले – 16, 522

. कुल रिकवरी – 4, 25, 21, 341

. कुल मौतें – 5, 22, 223

. कुल वैक्सीनेशन – 1,87, 71, 95, 781

दुनियाभर में कोरोना से क्षति की बात की जाए तो संक्रमितों की संख्या 50 करोड़ के पार पहुँच चुकी है और 62 लाख से अधिक मौतें हो चुकी हैं। दुनिये के दूसरे देशों से भारत की तुलना की जाए तो कोरोना प्रभावित देशों की सूची में भारत दूसरे नम्बर पर है। भारत से ऊपर मात्र अमेरिका है जहां कोरोना से होने वाली क्षति सबसे अधिक है।

तीसरे नम्बर पर ब्राजील है जहाँ कोरोना ने कोहराम मचा रखा है। इसके बाद फ्रांस, जर्मनी और यूके का स्थान आता है जहां कोरोना के सबसे अधिक संक्रमित हैं।

Read More- PCOD and PCOS: जाने क्या होता है पीसीओडी और पीसीओएस और क्या प्रभाव पड़ता है इसका प्रेगनेंसी पर

देश में महाराष्ट्र कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित होने वाला राज्य है। महाराष्ट्र में कोरोना के मामले 78 लाख को पार कर गए हैं और 1 लाख से अधिक लोगों की जान गई है। महाराष्ट्र के बाद केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में मामले अधिक हैं।

जानिए क्या अलग  हैं कोरोना XE वेरिएंट के लक्षण, कितना अलग है दूसरे वेरिएंट से?

भारत में कोरोना के XE वेरिएंट ने दस्तक देकर सनसनी मचा दी। इस वैरिएंट का पहला मामला ब्रिटेन में देखा गया। इसे बहुत ही तेजी से फैलने वाला वैरिएंट माना जा रहा है और ओमिक्रोन के सबसे संक्रामक वेरिएंट के मुकाबले भी सबसे तेजी से फैल रहा है। यह सब – वैरिएंट बहुत ही नया स्ट्रेन है और यही वजह है कि इसके बारे में बहुत ही कम जानकारी उपलब्ध है। मिरर की रिपोर्ट की मानें तो ओमिक्रोन के इस नए वैरिएंट में अब तक किसी नए लक्षण की पुष्टि नहीं हुई है।

इसके अधिकतर लक्षण कोल्ड की तरह ही माने जा रहे हैं। जिसमें नाक बहना, छींक आना और गले में खराश जैसे लक्षण शामिल हैं।  कोविड के मूल स्ट्रेन की बात की जाए तो इससे पीड़ित मरीजों में बहुत तेज बुखार, खांसी, जुकाम, स्वाद और गंध का गायब होना अधिक प्रमुखता से दिखाई पड़ते हैं।

Read More- Healthy Liver : ऐसे रखें अपने लिवर को हेल्दी, यह नुस्खे आएंगे काम

स्कूल भेजने से पहले अपने बच्चों के लिए चुने यह मास्क

देशभर में स्कूल खुल चुके हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना की चौथी लहर में बच्चों की अधिक संक्रमित होने की आशंका है। फिल्हाल बच्चों के लिए कोविड 19 से लड़ने के लिए कोई उपयुक्त वैक्सीन भी नहीं है। ऐसे में यह बेहद ज़रूरी है कि बच्चों पर ध्यान दिया जाय। बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए मास्क बहुत ज़रूरी है और सही मास्क का चुनाव बहुत महत्वपूर्ण है। ऐसे में बच्चों को स्कूल भेजने के लिए आप N-95/ FFP2 मास्क।

US Centre for disease control and prevention और डब्लूएचओ ने भी इन मास्क को प्रभावी माना है। यह मास्क फिल्ट्रेशन और रिसाव दोनों के लिए फायदेमंद है। यह मास्क 95 से 99 प्रतिशत तक फिल्टरिंग कर सकता है।

चीन की शंघाई में कोरोना से हालात बदतर

कोरोना के मामले चीन की शंघाई में इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं कि शंघाई शहर कोरोना के हॉटस्पॉट बना हुआ है। प्रशासन ने अधिकांश गतिविधियां प्रतिबंधित कर दी है। हालात इतने बुरे हो गए है कि यहाँ लॉकडाउन लगाया गया है। लॉकडाउन की वजह से शंघाई में करोड़ों लोग अपने घरों में बंद होने को मजबूर हो गए हैं।

इटली और फ्रांस में कोरोना के हाल

इटली में शनिवार को 70, 520 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इटली के अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अभी दस हज़ार से भी अधिक हैं। वहीं सैकड़ों मरीज आईसीयू में भर्ती हैं। फ्रांस में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या में उछाल देखने को मिला है। फ्रांस में एक दिन में 88 हज़ार से अधिक मामले सामने आ रहें हैं।

अमेरिका में हैं सबसे अधिक संक्रमित

अमेरिका में भी कोरोना से जंग जारी है। आपको बता दें कि अमेरिका दुनिया का सबसे अधिक कोरोना से प्रभावित होने वाला देश है। दुनिया के सबसे अधिक मामलों और मौतों की संख्या क्रमश: 80,952,268 और 991, 166 के साथ अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश बना हुआ है।

इन राज्यों में मास्क अनिवार्य

देश की राजधानी दिल्ली समेत हरियाणा, उत्तर प्रदेश, पंजाब,तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और केरल में मास्क अनिवार्य कर दिया गया है।

कोरोना के मामले दिन – ब – दिन बढ़ते ही जा रहें हैं। ऐसे में ज़रूरी है कि आप कोरोना के सभी प्रोटोकॉल्स का अनुपालन करें और सावधानी बरतें।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button