सेहत

जाने ‘प्राकृतिक इम्यूनिटी’ या फिर ‘कोरोना वैक्सीन’, कौन सी चीज होगी ज्यादा बेहतर

जाने क्या होती है कोरोना की ‘प्राकृतिक इम्यूनिटी’


जैसा की हम सभी लोग देख रहे है कि पिछले एक साल से पूरी दुनिया कोरोना वायरस से परेशान है. अभी तक इसकी कोई वैक्सीन नहीं आयी है लेकिन अभी हाल ही में फाइजर और मॉडर्ना की वैक्सीन दुनियाभर में खूब चर्चा चल रही है क्योंकि इन वैक्सीन को 90-95 फीसदी तक प्रभावी बताया गया है.  इसी बीच अमेरिका में एक सांसद ने ऐसी बात कहीं कि जिससे एक नई बहस छिड़ गई है. उन्होंने कहा कि कोरोना के संक्रमण से ठीक होने के बाद हमारे शरीर में जो ‘प्राकृतिक इम्यूनिटी’ बनती है, वह कोरोना वैक्सीन के मुकाबले कई गुना फायदेमंद होती है. उनके अनुसार कोरोना की ‘प्राकृतिक इम्यूनिटी’ 99.9982 फीसदी होती है.  तो चलिए आज जाने है ‘प्राकृतिक इम्यूनिटी’ या फिर कोरोना वैक्सीन, कौन सी चीज होगी ज्यादा फायदेमंद.

जाने क्या बोलती है मीडिया रिपोर्ट

टोरंटो यूनिवर्सिटी की इम्यूनोलॉजिस्ट जेनिफर गोमरमैन का कहना माने तो उनके अनुसार, ‘वैक्सीन के मुकाबले प्राकृतिक इम्यूनिटी ज्यादा बेहतर होती है’, लेकिन यह सिद्धांत पूरी तरह सही नहीं है. क्योकि कोरोना की ‘प्राकृतिक इम्यूनिटी’ कोरोना के संक्रमण से बचाव जरूर करेगी लेकिन कोरोना वैक्सीन का फायदा यह है कि यह उम्मीद के मुताबिक और सुरक्षित है और प्रभावी प्रतिरक्षा भी पैदा कर रही है.

और पढ़ें: जाने क्यों पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को झेलनी पड़ती है जिम्मेदारियों का मानसिक बोझ

corona vaccine

जाने कोरोना वैक्सीन को लेकर क्या कहना है विशेषज्ञों का

विशेषज्ञों के अनुसार, कोरोना वैक्सीन लगने के बाद लोगों में उतनी मात्रा में इम्यूनिटी तो बन ही जाती है कि अगर कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाएं तो गंभीर रूप से बीमार नहीं पड़ेंगे। इतना ही नहीं इसके अलावा कोरोना वैक्सीन का सबसे बड़ा फायदा ये है कि यह कोरोना से बीमार होने के मुकाबले सुरक्षित है. एक और सवाल जो शायद आप सभी लोगों के मन में भी आजकल उठ रहा होगा कि जो लोग भी पहले कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं, उनके शरीर में तो कोरोना के खिलाफ इम्यूनिटी बन चुकी है, तो क्या उन लोगों को भी कोरोना वैक्सीन लेनी होगी?

इस सवाल पर वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी की वायरोलॉजिस्ट मैरिअन पेपर का कहना है कि ऐसे लोगों जो पहले ही कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके है उनके शरीर को अगर कोरोना वैक्सीन मिलेगी तो उनकी इम्यूनिटी ओर भी ज्यादा बेहतर हो जाएगी.  साथ ही इस कोरोना वैक्सीन का कोई नुकसान नहीं होगा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button