Citizenship Amendment Act ने मचाई हिंसा, जानें कहा – कहा मचा है बवाल?

0
48
Citizenship Amendment Act
Citizenship Amendment Act

नागरिकता कानून  – दिल्ली

नागरिकता कानून के खिलाफ देशव्यापी आज प्रदर्शन हो रहा है। नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर दिल्ली में लाल किला क्षेत्र के पास प्रदर्शन कर रहे स्वराज इंडिया पार्टी प्रमुख योगेन्द्र यादव,संदीप दीक्षित, उमर खालिद समेत तमाम लोगों को पुलिस ने  गिरफ्तार किया। गुरूवार को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शन में 1200 से अधिक प्रदर्शनकारी हिरासत में लिए गए। इसके पहले, दिल्ली पुलिस के निर्देश पर दिल्ली- राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के कुछ हिस्सों में एयरटेल, वोडाफोन आइडिया और रिलायंस जियो सहित दूरसंचार कंपनियों की इंटरनेट, वायस और संदेश सेवाओं को निलंबित कर दिया गया था लेकिन बाद में उन्हें चालू कर दिया गया।

विशेष प्रकोष्ट के पुलिस उपायुक्त ने एक आदेश जारी कर सभी से कहा है कि,”मौजूदा कानून एवं व्यवस्था की स्थिति को देखते हुये सभी तरह की संचार सेवाओं – वॉयस, एसएमएस और इंटरनेट सेवाओं को 19-12-2019 को इन इलाकों में 0900 बजे से 1300 बजे तक रोकने का निर्देश दिया जाता है। कंपनियों का कहना है कि सरकार की अनुमति मिलते ही इंटरनेट सेवा पुन: चालू कर दी जाएगी। ”

Read more: Citizenship Amendment Act को चुनौती देने वाली याचिका पर आज होगी सुनवाई

नागरिकता कानून –  असम

असम राज्य के करीब 20 सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने गुरुव्वर को छात्रों से अपील की थी कि वो अपने भविष्य को खतरे में नहीं डालें। उन्होंने अपने अपील में कहा था कि हर हाल में राज्य में शांति तथा सौहार्द कायम रखनी चाहिये।  अपील पर ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (आसू) ने कहा है कि कुलपतियों को अगर राज्य के छात्रों का इतना ही चिंता है तो पीएम नरेंद्र मोदी से कानून को वापस लेने के लिए कहना चाहिये। आसू विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व कर रहा हैं।

नागरिकता कानून  – लखनऊ

नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ गुरुवार को लखनऊ में प्रदर्शनकारियों का प्रदर्शन उग्र हुआ जिसमें एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई। कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। इसी बीच सूबे के मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने इस हिंसक प्रदर्शन पर बड़ा बयान दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ (Lucknow) में ओवी वैन, रोडवेज बस और वाहनों को आग लगाई गई है। जहां भी सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान हुआ है वहां पर सरकार सख्त कार्रवाई करेगी। इसके अलावा हम उपद्रवियों की संपत्ति को नीलाम कर इसकी वसूली करेंगे। साथ ही सीएम ने विपक्ष पर भ्रम फैलाने का आरोप भी लगाया।

नागरिकता कानून  – मुंबई

अगस्त क्रांति मैदान  जहाँ से कभी अंग्रेजों के खिलाफ भारत छोड़ो आंदोलन शुरू हुआ था, गुरूवार को उसी मैदान में हजारों लोगों सहित कई सेलेब्रेटी और विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओ ने मोदी सरकार के नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ प्रदर्शन किया। इन लोगों ने कहा कि देश में नागरिकता संशोधित कानून हमें मंजूर नहीं है। उनलोगों ने ‘हिन्दू-मुस्लिम एक हैं, मोदी-शाह फेक हैं जैसे नारा लगाकर अपनी आवाज बुलंद की।

नागरिकता कानून  – पश्चिम बंगाल

गुरूवार को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा है कि वो नागरिकता कानून पर मोदी सरकार को चुनौती देंगी। उन्होंने मांग की है कि यूनाइटेड नेशन्स के नेतृत्व में जल्द नागरिकता कानून पर जनमत संग्रह किया जाना चाहिये। उन्होंने दावा किया है कि देश के अधिकांश लोग मोदी सरकार के खिलाफ है। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को चेतावनी दी है कि यदि जल्द नागरिकता कानून को नहीं बदला गया तो देश भर में विरोध ओर तेज होंगे।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com