मनोरंजन

Bollywood Actresses and Cancer: सोनाली बेंद्रे से लेकर ताहिरा कश्यप जिनके सामने कैंसर ने घुटने टेक दिये!

 Bollywood Actresses and Cancer: सोनाली बेंद्रे, मनीषा कोइराला, मुमताज़ जैसे अभिनेत्रियों ने कैसे दी कैंसर को मात?


Highlights:

Bollywood Actresses and Cancer: किन अभिनेत्रियों ने जीता कैंसर के खिलाफ अपनी जंग?
क्या है सोनाली बेंद्रे की पूरी कहानी?
मुमताज़ ने कैसे दी 54 वर्ष की आयु मे कैंसर को मात?
“दिल से” की हिरोइन मनीषा कोइराला की क्या है कहानी?

Bollywood Actresses and Cancer: बॉलीवुड की दुनिया के सेलेब्स ना केवल अपने फैशन सेंस और अभिनय कौशल के लिए जाने जाते हैं, बल्कि जीवन में प्रेरणा देने के लिए भी जाने जाते हैं।

इन वर्षों में, कई मशहूर हस्तियों को कैंसर का पता चला है, कुछ ने लड़ाई जीत ली है, अन्य ने भी अपने अंतिम क्षण तक लड़ाई लड़ी है, और अपने लाखों प्रशंसकों को हमेशा जीवन के लिए लड़ने के लिए प्रेरित किया है।

समाज पर कैंसर का बोझ कई कारणों से है, जिसमें हमारी गतिहीन जीवन शैली, खाने की आदतें, प्रदूषण, उम्र और अन्य चीज़े शामिल हैं। लेकिन जो लोग कैंसर से डरते हैं, उन्हें यह जानने की जरूरत है कि लोग कैंसर से ठीक भी हो सकते हैं और ये हस्तियां इसका जीता जागता उदाहरण हैं।

Bollywood Actresses and Cancer

वेबसाइट ‘इंडिया अगेंस्ट कैंसर’ में कहा गया है कि वर्तमान में भारत में लगभग 2.25 मिलियन से भी ज्यादा लोग इससे जूझ रहे हैं। अभिनेता नरगिस दत्त, फिरोज खान, राजेश खन्ना, विनोद खन्ना, टॉम ऑल्टर से लेकर मशहूर संगीतकार और गायक आदेश श्रीवास्तव तक को हमने अतीत में कैंसर के लिए खो दिया है।

बॉलीवुड की कई ऐसी हस्तियां रही हैं जो न सिर्फ ऑन-स्क्रीन बल्कि अपनी असल जिंदगी में भी हीरो रही हैं। उन्होंने इस घातक बीमारी से बहादुरी से लड़ाई लड़ी और विजयी हुए। आइए एक नजर डालते हैं बॉलीवुड अभिनेताओं की प्रेरक कहानियों पर जो इस बीमारी से पीड़ित थे और जिनहोने कैंसर को हराया:

मनीषा कोइराला

मनीषा को 2012 में ओवेरियन कैंसर का पता चला था, यह अक्सर तब तक निदान नहीं होता जब तक यह श्रोणि और पेट में फैल नहीं जाता। इलाज के लिए अमेरिका के न्यूयॉर्क ले जाया गया जहा उन्हें कीमोथेरेपी से गुजरना पड़ा और अस्पताल में महीनों बिताना पड़ा। कैंसर से लड़ने और जंग जीतने के बाद, वह इस बीमारी के बारे में जागरूकता फैलाने में सक्रिय रूप से शामिल हैं।

बॉलीवुड अभिनेत्री मनीषा कोइराला कैंसर से बची हैं और उन्होंने एक बॉस की तरह इस बीमारी से लड़ाई लड़ी! मनीषा अब कैंसर मुक्त हैं और अपने नए जीवन के लिए आभारी हैं।

लिसा रे

लिसा को 2009 में मल्टीपल मायलोमा का पता चला था। यह कैंसर प्लाज्मा सेल में बनता है, यह एक दुर्लभ बीमारी है। 2009 में क्रिसमस पर रे ने अपने दुर्लभ कैंसर के इलाज के लिए स्टेम सेल प्रत्यारोपण प्राप्त किया। अप्रैल 2010 में, उन्होने घोषणा की कि वह प्रत्यारोपण के कारण कैंसर मुक्त थी। दुख ने जीवन के प्रति उसके दृष्टिकोण को प्रभावित नहीं किया है। लीजा अपनी लड़ाई को लेकर सबसे मुखर सेलेब्स में से एक हैं। उन्होंने कैंसर के साथ जीने के अपने अनुभवों के बारे में एक ब्लॉग ‘द येलो डायरीज’ लिखना शुरू किया।

Read more: Deepika Padukone Birthday Special : कैसे शांतिप्रिया यानी दीपिका बन गई करोड़ो दिलों की मलिका?

सोनाली बेंद्रे

जुलाई 2018 में उन्होंने ट्विटर पर खुलासा किया कि उन्हें मेटास्टेटिक कैंसर का पता चला है और उनका न्यूयॉर्क शहर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। मेटास्टेसिक कैंसर में, कैंसर कोशिकाएं रक्तप्रवाह के माध्यम से शरीर के नए क्षेत्रों में फैलती हैं। जब कैंसर शरीर के मूल भागों से अन्य स्थानों पर फैलता है, तो इसे मेटास्टेटिक कैंसर कहा जाता है।

न्यूयॉर्क में सोनाली को बताया गया कि यह चौथा चरण है और उनके बचने की 30% संभावना है। अभिनेत्री ने एक बार कहा था कि बीमारी का पता चलने के बाद वह पूरी रात रोती रहीं। लेकिन एक सकारात्मक दृष्टिकोण ने उन्हें कैंसर के इलाज से निपटने में मदद की।

सोनाली बेंद्रे ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर अपने गंजे सिर की शुरुआत करते हुए अपने प्रशंसकों को चौंका दिया, जटिल बीमारी से अपनी लड़ाई के लिए हर तरफ से शुभकामनाएं एकत्र कीं।

अंततः उन्होने इस लड़ाई को जीत ली और अब अपना सर्वश्रेष्ठ जीवन जी रही है। अपनी कैंसर रिकवरी यात्रा के दौरान, उन्होंने अपने प्रशंसकों के साथ नियमित अपडेट भी साझा किया।

मुमताज़

2002 में मुमताज़ को ब्रेस्ट कैंसर का पता चला, तब वह 54 वर्ष की थीं। छह कीमोथेरेपी और 35 रेडियशन्स के  बाद, मुमताज़ भी कैंसर के खिलाफ लड़ाई जीतने में कामयाब रही। उन्होने एक बार मीडिया से बात करते हुये कहा, “मैं आसानी से हार नहीं मानती। यहां तक कि मौत को भी मुझसे लड़ना होगा।” उन्होने आगे कहा की मैंने अपने स्वास्थ्य को ठीक करने के लिए एक सख्त शासन का पालन किया।

ताहिरा कश्यप

आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा कश्यप कुछ साल पहले तक कैंसर से जूझ रही थीं। लेखक और निर्देशक, ताहिरा को 2018 में स्टेज 0 ब्रेस्ट कैंसर का पता चला था। ताहिरा और आयुष्मान ने 2008 में शादी की थी। ताहिरा और आयुष्मान दो बच्चों – विराजवीर खुराना और वरुष्का खुराना के माता-पिता हैं। जनवरी 2019 में उसकी आखिरी कीमो थी और अब वह कैंसर मुक्त है!

Read more: Bollywood Controversies 2021 :बॉलीवुड कलाकार जो रहे 2021 में विवादों से घिरे, जानिए पूरी डिटेल्स इस रिपोर्ट मे

नफीसा अली

अभिनेत्री और कार्यकर्ता नफीसा अली सोढ़ी को स्टेज 3 में पेरिटोनियल और ओवेरियन के कैंसर का पता चला था। उन्होने अपने इंस्टाग्राम फॉलोअर्स को अपने स्वास्थ्य के बारे में अपडेट रखा। हार ना मानते हुये नाफिसा ने भी कैंसर को मत दे दी। वह अब कैंसर के बारे मे लोगो को जागरुक्त करने मे जुटी है।

Conclusion: इन अभिनेत्रियों की कहानी को सुनकर ये पता चलता है की कैंसर भ्यावह जरूर है मगर इसे लड़कर मात दिया जा सकता है। स्वस्थ को पहले जैसा बनाने के लिए सख्त अनुशासन के साथ मन में सकारात्मक विचार भी जरूरी है। इन महिला अभिनेत्रिओ की कहानियो से प्रेरणा लेकर कैंसर के खिलाफ अपने आप को लड़ाई के लिए तैयार किया जा सकता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Himanshu Jain

Enthusiastic and inquisitive with a passion in Journalism,Likes to gather news, corroborate inform and entertain viewers. Good in communication and storytelling skills with addition to writing scripts
Back to top button