मद्रास कोर्ट ने हटाया टिक-टोक से बैन,3.5 करोड़ का रोज़ हुआ नुक्सान

0
29
celebrity reaction on tiktok ban

टिकटोक यूज़र्स को बड़ी राहत ,नहीं होगा एप बैन


अपनी कला की छोटी सी झलक दिखाने के लिए चीनी कंपनी बाईटडांस द्वारा एक विडिओ शेरिंग एप का निर्माण किया गया था जिसे दुनिया भर के करोडो लोगो द्वारा उपयोग किया जा रहा है .हर उम्र के टैलेंट को दिखाने वाले टिक-टोक पर बीते दिनों बेन की स्थिति बन गयी थी। मद्रास हाई कोर्ट की मुदेरे पीठ द्वारा टिक टोक पर अश्लील विडिओ कंटेंट शेयर किये जाने का आरोप लगाया गया था जिसके बाद से ही टिकटोक पर अस्थायी बेन लग गया था जिसे बुधवार को सुनवाई के बाद हटा दिया गया है.

कंपनी को उठाना पड़ा हर दिन 3.5 करोड़ का नुक्सान

टिक-टोक पर बेन लगने के तुरंत बाद ही इस एप को गूगल प्लेस्टोरे और एप्पल एप से हटा दिया गया था जिसके चलते कोई भी नया उपभोक्ता इस एप को इस्तेमाल करने के लिए डाउनलोड नहीं कर सकता था , चीनी कंपनी को इस अस्थायी बेन लगने पर हर दिन 5 लाख डॉलर (करीब 3.5 करोड़ रुपये) का नुकसान हो रहा था और तो और नुकसान की भरपाई के लिए कंपनी 250 कर्मचारियों की छंटनी पर विचार कर रही है.बाइटडांस ने चीन की एक अदालत को यह जानकारी दी थी.

यहाँ भी पढ़े:सेट पर हुआ इस एक्ट्रेस के साथ हादसा

भारत में और निवेश करने का चल रहा था विचार

बताया जा रहा है कि बेन लगने से पहले ही कंपनी भारत में एक अरब डॉलर तक के निवेश की तैयारी कर चुकी थी.लेकिन बेन के बाद इस विचार को दरकिनार कर दिया गया. आपको बता दें कि भारत में टिक -टोक के लगभग 3 करोड़ यूजर्स हैं और दुनिया की बात करें तो विश्व भर में टिक-टोक के 1 अरब यूजर्स मौजूद हैं और चर्चित टिक-टोकेर्स को अच्छे विडिओ के लिए राशि का भुगतान भी किया जाता है.

टिक-टोक यूज़र्स में अब खुशी की लहर

कई सारे युवा टिक-टोक में विडिओ शेयर करके अच्छी खासी कमाई कर रहे हैं और साथ ही साथ टिक के द्वारा कई सारे कलाकार भी सामने आये हैं जिनकी फैन फॉलोविंग बढ़ती ही जा रही है ,ऐसे में टिक-टोक के बेन होने की खबर ने सबको हताश कर दिया था लेकिन जब से खबर आयी है कि मद्रास कोर्ट ने बेन हटा दिया है तब से सारे यूसर्स काफी खुश हैं.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in