सेहत

लम्बे समय तक भूख न लगना, कैसे आपके लिए एक बड़ी चिंता का विषय हो सकता है? 

व्यक्ति को भूख लगना किन चीजों पर निर्भर करता है


व्यक्ति का शरीर एक मशीन की तरह होता है जैसे मशीन को चलाने के लिए ईंधन की जरूरत पड़ती है। उसी तरह व्यक्ति के शरीर को चलाने के लिए भोजन की जरूरत पड़ती है। लेकिन क्या आपको पता है जरूरत से ज्यादा भूख लगना और भूख न लगना दोनों ही चिंता  का विषय है। व्यक्ति को समय पर भूख लगना, समय पर खाना खाना और मन की तृप्त होना एक स्वस्थ व्यक्ति की पहचान है। जैसे किसी भी मशीन की स्पीड कम होती है तो उससे ईंधन की जरूरत पड़ती है इसी तरह अगर किसी व्यक्ति की एनर्जी कम होती है तो उससे भोजन की जरूरत होती है। क्या आपको पता है भूख लगना शरीर के ब्लड शुगर रेट और कुछ हॉर्मोन्स पर निर्भर करता है। तो चलिए आज जानते है भूख न लगने के कारण।

डिप्रेशन: डिप्रेशन एक मानसिक समस्या है जिसमे व्यक्ति को या तो भूख कम लगती है या बिल्कुल नहीं लगती। अगर आपको भी अपने अंदर ऐसा कुछ महसूस होता है तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए या फिर किसी मेन्टल हेल्थ प्रोफेशनल से मिलना चाहिए। क्यों की पिछले कुछ समय से पुरे देश में कोरोना का कहर है जिसके कारण बहुत से लोगों ने अपनी नौकरियाँ गवा  दी। जिसके कारण वो डिप्रेशन का शिकार भी हो सकते है।

और पढ़ें: डायबिटीज के पेशेंट को अपनी डाइट में शामिल करनी चाहिए ये सभी चीजे 

प्रेगनेंसी

ग्जायटी भी भूख न लगने का एक कारण हो सकती है जब भी कोई व्यक्ति किसी बात को लेकर बेचैन होता है या फिर उससे किसी बात से घबराहट होती है तो उस समय शरीर में उत्पन हुए हॉर्मोन्स उसकी भूख को खत्म कर देती है। इस समय व्यक्ति को मितली आने की समस्या हो सकती है इस लिए आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

एंग्जायटी: एंग्जायटी भी भूख न लगने का एक कारण हो सकती है जब भी कोई व्यक्ति किसी बात को लेकर बेचैन होता है या फिर उससे किसी बात से घबराहट होती है तो उस समय शरीर में उत्पन हुए हॉर्मोन्स उसकी भूख को खत्म कर देती है। इस समय व्यक्ति को मितली आने की समस्या हो सकती है। इस लिए आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।