मनोरंजन

Best Indian Television Serials: सबके Favourite और Entertainment का पिटारा है टीवी सीरियल्स! रामायण से लेकर ये रिश्ता क्या कहलाता है तक, जानिए पूरी लिस्ट

Best Indian Television Serials: सिर्फ Fights के लिए ही नहीं जाने जाते भारतीय सीरियल! “KBC” से लेकर “CID” तक; जानिए अब तक के सबसे बेहतरीन Hindi Shows के बारे में !


Highlights:

Best Indian Television Serials of All Time: जानिए टॉप सीरियल्स की पूरी सूची!

रामानंद सागर के रामायण की लोकप्रियता की आज भी दी जाती है मिसाल!

क्या Taarak Mehta Ka Ooltah Chashma कभी खत्म होगा?

Best Indian Television Serials : भारतीय टीवी सीरियल्स एक ऐसा विषय है जिसे लेकर ज्यादातर लोगों के मन में हमेशा से ही तर्क-वितर्क चलता रहता है। जहां एक तरफ कुछ लोग यह मानते है की मनोरंजन के सोत्र के लिए इसे देखने में कोई बुराई नहीं है वही बहुत से ऐसे भी है जिन्हें लगता है की सास बहू से संबंधित सीरियल को देख कर सिर्फ नेगेटिविटी ही आती है।

भारतीय टेलीविजन के इतिहास में अभी तक सैकड़ों सीरियल बनाए जा चुके है उनमें से कई ने दर्शकों को बेहद प्रभावित भी किया है, जिसे देखने के लिए हर दिन हम अपने टीवी स्क्रीन के ठीक सामने एकदम समय पर बिना किसी देरी के बैठ जाया करते है।

भारत में मनोरंजन उद्योग किसी लंबी घुमावदार सड़क से कम नहीं रही है। रुझान बदलते है, चेहरे बदलते है, और इसी तरह उनकी श्रेणियों में भी कई बदलाव दिन प्रतिदिन देखने को मिलती है। पहला भारतीय टीवी शो “हम लोग” 38 साल पहले प्रसारित हुआ था। इस इंडस्ट्री में बदलाव तो काफी आए है मगर इतने सालो से जो नहीं बदला है वह है दर्शकों का टीवी के प्रति बेशुमार प्यार। आइए इस लेख में आगे हम अब तक के सर्वश्रेष्ठ भारतीय टेलीविजन सीरियल्स पर एक नज़र डालते है।

रामायण

अक्सर हम अपने दादा-दादी से सुनते है की कैसे पहले के दौर में पूरा मोहल्ला एक टीवी की सामने उमड़ पड़ता था सिर्फ रामायण को देखने के लिए, इससे इस सीरियल की लोकप्रियता का अंदाजा लगाया जा सकता है। वैसे तो रामायण की कहानी के कई रीमेक है मगर रामानंद सागर के रामायण को अब तक के सर्वश्रेष्ठ भारतीय टेलीविजन शो में शुमार किया जाता है।

महाभारत

भारत की सबसे लोकप्रिय पौराणिक कथाओं में से एक, महाभारत के कई संस्करण अब तक बन चुके है लेकिन उन सभी में से, शायद यह 80 के दशक की बीआर चोपड़ा की महाभारत है जो सबसे अविस्मरणीय और प्रतिष्ठित है। भले ही इस शो को समाप्त हुए सालों हो गए हों, फिर भी लोगों द्वारा इसका आनंद आज भी लिया जाता है।

क्योंकि सास भी कभी बहू थी

भारतीय टीवी के इतिहास में यह सबसे महत्वपूर्ण सीरियल्स में से एक है, इसलिए नहीं कि यह विशेष रूप से दिलचस्प है, बल्कि टीवी उद्योग पर इसका एक गहरा प्रभाव रहा है, क्योंकि सास भी कभी बहू थी को हमेशा उस शो के रूप में याद किया जाता है जिसने इस इंडस्ट्री को एक नया रूप और रंग दिया। सास-बहू से संबंधित टीवी पर चलने वाले सारे सीरियल की नींव है यह सीरियल।

साराभाई बनाम साराभाई

भारतीय टेलीविजन में सबसे अच्छी तरह से लिखे गए सिटकॉम में से एक है साराभाई बनाम साराभाई जिसे 2004 और 2006 के बीच प्रसारित किया गया था। हम में से कई लोगों के लिए जो 2000 के दशक में बड़े हुए, यह सीरियल टीवी पर देखने के लिए सबसे मजेदार चीजों में से एक था।

यह रिश्ता क्या कहलाता है

भारतीय टेलीविजन का चौथा सबसे लंबा चलने वाला सोप ओपेरा, ये रिश्ता क्या कहलाता है अक्षरा और नैतिक की कहानी का अनुसरण करता है जिनकी अरेंज मैरिज होती है। अपने कमाल के अदाकारी और संगीत के साथ इस सीरियल ने लोगों के दिलों में एक अहम जगह बनाई है। यह शो अब भी प्रसारित होता है मगर दूसरी कहानी के रूप में।

तारक मेहता का उल्टा चश्मा

 

लगभग 3000 एपिसोड से भी ज्यादा होने के बावजूद, इस अनुकूल शो ने अभी भी अपनी लोकप्रियता नहीं खोई है और ढेरो प्रशंसकों के अभी भी पहली पसंद है। तारक मेहता का उल्टा चश्मा काल्पनिक गोकुल सोसाइटी पर आधारित है।

यह शो इस मिनी इंडिया में रहने वाले लोगों के दैनिक जीवन के इर्द-गिर्द घूमता है और हास्यात्मक अंदाज़ में बताता है की अपनी रोजमर्रा की समस्याओं से वह कैसे निपटते है। यह बाल विवाह जैसे नाजुक विषयों को भी छूती है और हास्य स्थितियों की आड़ में हमें विभिन्न नैतिक पाठ सिखाती है। यह शो कब तक टेलीविजन पर प्रसारित होता रहेगा, इसका अंदाजा कोई नहीं लगा सकता है, लेकिन जब तक यह चलता रहेगा, लोगों को खुशियां मिलती रहेगी।

कौन बनेगा करोड़पति

अमिताभ बच्चन की आवाज़ और उनका बोल्ड व्यक्तित्व कौन बनेगा करोड़पति को एक शानदार शो बनाता है, जो भारतीय टीवी दर्शकों के बीच सबसे पसंदीदा और दिलचस्प शोज में से है। होस्ट, अमिताभ प्रतियोगियों को एक प्रश्न का सही उत्तर चुनने के लिए 4 विकल्प प्रस्तुत करते है। दिया गया प्रत्येक सही उत्तर प्रतियोगी को एक इनाम राशि की प्रतिष्ठित पुरस्कार को जीतने के करीब लाता है। वर्ष 2000 से चलते आ रहें इस शो के 13 सीजन अब तक प्रसारित किए जा चुके है।

खिचड़ी

यह एकमात्र खिचड़ी इतनी दिलकश है की इसे सब पसंद करते है। कहानी एक गुजराती परिवार पर केंद्रित है, जो हमेशा एक-दूसरे के साथ संघर्ष करते दिखते है। वैसे तो इसके नाम पर केवल 98 एपिसोड है ही प्रसारित हुए है पर प्रत्येक एपिसोड प्रफुल्लित करने वाला है। खिचड़ी ने भारत में कॉमेडी के लिए एक बेंचमार्क स्थापित किया था। बाद में इस सीरियल के ऊपर आधारित एक फिल्म भी बनाई गई थी।

ऑफिस ऑफिस

कार्यस्थल कॉमेडी को चित्रित करने और लोकप्रिय बनाने वाला पहला भारतीय टेलीविजन शो, ऑफिस ऑफिस, मुसद्दीलाल के इर्द-गिर्द केंद्रित है, जो एक साधारण व्यक्ति है जो अपने कार्यालय में सभी प्रकार के चुटकुलों का शिकार होता है और अक्सर उसके भ्रष्ट वरिष्ठों द्वारा उसे ताना मारा जाता है। यह शो हमारे देश के सार्वजनिक कार्यालयों को काला करने वाले भ्रष्टाचार के रंगों को उजागर करने में एक अद्भुत काम करता है।

बालिका वधू

बालिका वधू राजस्थान में होने वाले बाल विवाह के संवेदनशील विषय को आवाज देती है। पहले सीज़न में, श्रृंखला आनंदी और जगदीश के इर्द-गिर्द घूमती है, जिनकी शादी बच्चों के रूप में हुई थी। दूसरा सीज़न आनंदी की बेटी नंदिनी के जीवन का अनुसरण करता है, जो एक बाल वधू भी थी। 2,000 एपिसोड का आंकड़ा पार करने वाला पहला भारतीय फिक्शन शो, बालिका वधू ने कई सामाजिक विषयों को छुआ और जनता के बीच एक लोकप्रिय शो बन गया।

दिया और बाती हम

Read More –Low Budget Blockbuster Bollywood Movies: ऐसी फिल्में जिनको लगी Bumper Opening!

यह टीवी सोप ड्रामा संध्या नाम की एक मजबूत इरादों वाली महिला पर केंद्रित है, जिसका एकमात्र असली लक्ष्य आईपीएस अधिकारी बनना है। उसे उसके ससुराल वालों द्वारा सख्त विरोध का सामना करना पड़ता है, लेकिन अपने स्नेही और सहायक पति, सूरज की मदद से सफलता की ओर प्रयास करना संध्या जारी रखती है। राजस्थान में बसे इस सीरियल की कहानी से लाखो लोग प्रभावित हुए थे।

सीआईडी

भारत में सबसे लंबे समय तक चलने वाला सिटकॉम, सीआईडी अपने दर्शकों को अपने अतरंगी रहस्यमय केसेस से बांधे रखने में हमेशा सक्षम रहा है। यह विशेष शो कुछ हद तक भारतीय टेलीविजन दर्शकों की जीवनशैली का एक अहम हिस्सा बन गया था। दया और अभिजीत की जोड़ी को आज भी काफी याद किया जाता है।

इंडियन आइडल

कई संगीत प्रतियोगिता रियलिटी टीवी शो आए और चले गए लेकिन कोई भी दर्शकों को आकर्षित करने में इतना कामयाब नहीं हो पाया जितना इंडियन आइडल ने किया हो।

इस संगीत शो ने हमारे टीवी स्क्रीन पर कई चांद लगाए हैं और फिर भी यह हर नए सीजन के साथ अधिक दर्शकों को लाने का प्रबंधन करता है। साइमन कॉवेल की अमेरिकन आइडल पर आधारित, इंडियन आइडल का पहला सीजन 2004 के प्रसारित हुआ था।

Conclusion: कोई कुछ भी कहें मगर भारतीय टीवी सीरियल्स रोचक जरूर हुआ करते है। जहां एक तरफ वहीं घिसी पीटी सास बहू की कहानियां  आज भी प्रसारित उसी अंदाज में की जा रही है वही कुछ ऐसे सीरियल भी बीच बीच में आते है जो इन सब के ऊपर उठ कर कुछ नया और बेहतर परोसते है। आज इस लेख में हमने ऐसे ही कुछ सीरियल्स की चर्चा की है, उम्मीद है आप इस लेख को पढ़कर आपने पुराने और सुहाने दिनों को याद कर रहे होंगे और अगर आपने इन सीरियल्स को अब तक नहीं देखा है तो हमारी आग्रह रहेगी की एक बार आप इन पर नज़र जरूर डाले।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Himanshu Jain

Enthusiastic and inquisitive with a passion in Journalism,Likes to gather news, corroborate inform and entertain viewers. Good in communication and storytelling skills with addition to writing scripts
Back to top button