सेहत के लिए ब्लू बेरी के फायदे और नुकसान

0
116
सेहत के लिए ब्लू बेरी के फायदे और नुकसान

क्या एक मामूली फल भी हो सकता है काफी सहायक?


ब्लू बेरी को नील बदरी भी कहा जाता है ये एक नील रंग का फल होता है ये आकर में छोटा होता है और स्वाद में ये फल खट्टा और मीठा होता है  . ब्लू बेरी में कई औषधीयगुण  पाए जाते है और ये स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी माना जाता है. इसका साइंटिफिक नाम वैक्सीनियम को रिबोसोम है. इसमे कई तरह के विटामिन्स  पाए जाते है जो स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा माना गया है और ये  स्वास्थ्य , त्वचा और बालो के लिए काफी सहायक माना गया है. ये मुख्य रूप से उत्तरी गोलार्ध में पाया जाता है.

ब्लू बेरी  कितने प्रकार की होती है ?

लो बुश या कम बुश ब्लू बेरी , उत्तरी ,दक्षिणी ,रैबिट आय और हाफ  हाई या उच्च बुश ब्लू बेरी  .

ब्लू बेरी का उत्पादन कहा किया जाता है ?

ब्लू बेरी की खेती ज़्यादातर अमेरिका , एशिया और यूरोप में की जाती है  . लेकिन इसकी बढ़ती मांग को देखते हुए विश्व में इसका उत्पादन 95% हिस्सा कनाडा और अमेरिका कर रहे है  .

ब्लू बेरी के फायदे

हड्डी मजबूत करना 

ब्लू बेरी में कैल्शियम , मैग्नीशियम , फॉस्फोरस ,लोह तत्व , जस्ता , विटामिन k पाया जाता है  . यह तत्व हड्डियों को मजबूत बनाये रखने में मदद करता है  .

कोलस्ट्रोल कम करने में 

ब्लू बेरी में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है यह कोलस्ट्रोल कम करने में मदद करता है इसमें पाए जाने वाले केल्शियम , मैग्नीशियम रक्तचाप को कम करने में सहायक होते  है.

यहाँ भी पढ़े: गर्मी में सत्तू खाने के फायदे (Health Tips)

बाल बढ़ाने में सहायक 

ब्लू बेरी प्रोएथोसायनीडीन रसायन होने के कारण बालो को बढ़ने में सहायता मिलती है. इससे बने हेयर मास्क का उपयोग बालो को बढ़ावा देने में मदद करता है.हेयर मास्क बनाने के लिए एक मुट्ठी ब्लू बेरी और जैतून के तेल को मिला ले और अच्छे तरीके से बालो की जड़ो पर लगा ले  . 20 -30 मिनट बाद बालो को गुनगुने पानी से धो ले.

ब्लू बेरी के नुकसान 

यदि आप रक्त को पतला करने की दवा ले रहे है तो आपको ब्लू बेरी का सेवन नहीं करना चाहिए.

ज़्यादा मात्रा में ब्लू बेरी खाने से आपके पाचन पर बुरा प्रभाव पढ़ सकता है इसका मुख्य कारण ब्लू बेरी में ज़्यादा मात्रा में फाइबर का पाया जाना है .

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in