Categories
सुझाव

विज्ञान बताता है संगीत के ये फायदे

क्या आप जानते है संगीत के फायदे?


संगीत हम सभी की ज़िन्दगी में अहम भूमिका निभाता है। यह कोई बहुत बड़ी आवश्यकता तो नही होती पर लेकिन फिर भी कुछ समय ऐसे होते हैं जिसमे खुद को खुश करने के लिए संगीत आवश्यक होता है। ऐसे कुछ ही लोग होंगे जो संगीत से बिलकुल ही कटे हुए हो नहीं तो प्रत्येक व्यक्ति किसी न किसी तरह से संगीत से जुड़ा ही है। कहीं न कही संगीत सभी की ज़िन्दगियों में अपनी जगह लिए हुए है।

संगीत सुनते तो सब हैं, क्यों सुनते हैं क्योंकि उन्हें यह अच्छा लगता है परंतु क्या कभी आपने सोचा है कि संगीत सुनने से आपको कितने फायदे होते हैं? जब भी आपका मन उदास होता है आप थोड़े निराश होते हैं जब भी आपका मन उदास होता है या फिर आप किसी कारणवश निराश होते हैं तब संगीत ही आपकी सहायता करता है। आप अपना मनपसन्द गाना लगाते हैं और देखते ही देखते आपका मन भी ठीक होने लगता है और आप भी। संगीत को एक मुफ्त चिकित्सा का खिताब देना गलत नही होगा।

परंतु वैज्ञानिकों की माने तो संगीत एक बहुत बड़ा विषय है जिसके न जाने कितने फायदे हैं। इसी विषय को उठाते हुए हम आपके लिए लाये हैं संगीत के कुछ अद्भुत फायदे जिनके बारे में आपको जरूर पता होना चाहिए। आप इन फायदों को नीचे पढ़ सकते हैं।

संगीत के फायदे :

  • संगीत मस्तिष्क को और बेहतर बनाता है : जब आप संगीत और मस्तिष्क का सम्बन्ध समझना चाहे तो आपको हमेशा संगीतकारों की नज़र से संगीत को देखना चाहिए या फिर जज करने का आधार संगीतकारों को बनाना चाहिए। वैज्ञानिकों ने इस पर रिसर्च करने के लिए संगीतकारों के टेस्ट किये और पाया कि उनका मस्तिष्क आम लोगों से अधिक सममित होता है। दरअसल होता यह है कि संगीतकारों का प्रतिदिन रियाज़ करना और कोई न कोई वाद्य यंत्र बजाना उनके मस्तिष्क के दोनों अर्धगोलार्ध को बराबर क्र देता है और यही कारण है कि संगीतकारों का मस्तिष्क आम इंसानो से बेहतर होता है।
  • संगीत बढाता है आपकी उत्पादकता को : संगीत के स्वास्थ्य सम्बन्धी फायदों में यह भी एक  है। अगर आप प्रतिदिन अपनी पसंद के गाने सुनते है तो यह निश्चित है कि आप अपना ऑफिस का कार्य करने में या फिर कोई अन्य कार्य करने में अधिक उत्पादक होंगे। वैज्ञानिकों द्वारा किये गए एक शोध में पाया गया की कार्यालय  के वे कार्यकर्ता जिन्हें काम के दौरान अपनी पसंद के गाने सुनने की अनुमति दी गयी थी वे अपना कार्य उन लोगों से बेहतर क्र रहे थे जो लोग गाने नही सुनते और इस प्रकार संगीत आपकी उत्पादकता को बढ़ाता है।
  • संगीत आपको मूड को बेहतर बना सकता है : यह संगीत के फायदों में से सबसे अधिक जाना जाता है क्योंकि इसे लगभग सभी लोग एक्सपीरियंस क्र चुके होते हैं। जब कोई निराश होता है वह खुद को प्रोत्साहित करने के लिए ऐसे गाने चलाता है जो उसे उत्साह से भर सकें। जब कोई प्रेम में डूबा होता है तब वह उसी प्रकार के गाने सुनता है और वे उसके उसी मूड को और अच्छा बना देते हैं। तो जब भी मूड खराब हो तो अपना मनपसन्द गाना चलाना न भूले।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
लाइफस्टाइल

अगर आप समझते हैं ये बातें तो बन जायेगी जिंदगी और आसान

जानते हैं ये 4 बातें तो बन जायेगी आपकी जिंदगी और आसान


मानसिकता को समझना आपके किये काफी फायदेमंद हो सकता है चाहे वह आपकी खुद की मानसिकता हो या फिर आपके पडोसी लोगों की। कोई माने या नही उसे इस बात से बहुत फर्क पड़ता है कि दुसरे लोग उसके बारे में क्या सोचते हैं अर्थात कही न कही प्रत्येक मनुष्य किसी और की मानसिकता से जुड़ा होता है। ज़िन्दगी का हर पड़ाव एक सबक सिखाता है चाहे वह अच्छा हो या फिर चाहे वह बुरा हो।

प्रत्येक दिन न जाने ऐसी कितनी ही घटनाये होती होंगी जिनकी वजह से आपको निराशा महसूस होती होगी। जिस इंसान से आनी उम्मीद रखी होगी वह उस पर खरा नही उतरा होगा, किसी के लिए मन में कुछ बातें होंगी जो अनकही ही रह गयी होंगी। ये सब बातें आपको ज़रूर ही काफी ठेस पहुचाती होंगी तो इसलिए कुछ नियम ऐसे हैं कि यदि आप उनका पालन करें तो आप कभी दुखी नही होंगे और ऐसी बातें आपको ठेस भी नही पहुंचायेंगी।

तो आइये जानें क्या हैं वे बातें :-

1 ) लोग उतनी परवाह नही करते जितना आप सोचते हैं :

यह सुनने में भले ही अटपटा लगे परंतु यह सत्य है कि लोग उतनी परवाह नही करते जितना आप सोचते हैं। जी हाँ, लोगों को आपके बारे में सोचने में कोई ख़ास रुचि नही होती और उन्हें इसके अलावा और भी कई काम होते हैं। अधिकतर लोगों की आदत होती है कि वे कुछ भी कार्य करने से पहले वे सोचते हैं की दूसरे लोग उनके बारे में क्या सोचेंगे, क्या कहेंगे और व्यर्थ की चिंताएं कर अपना जीवन ख़ुशी से जी ही नही पाते। तो इसलिए यह चिंता छोड़ दें।

2 ) समय के साथ साथ हमारे व्यक्तित्व में भी परिवर्तन आता है :

यह सोचते रहना की हम तो पहले जैसे ही हैं और बाकी लोग बदल गए हैं सर्वथा अनुचित है। यह समझना बेहद आवश्यक है कि समय के साथ साथ खुद हम भी बदलते हैं तो रिश्तों के खराब होने का दोष आप सारा दुसरो पर नही डाल सकते की उनके कारण आपकी दोस्ती बिगड़ी या कुछ और। पहले आप कुछ और थे और अब आप कुछ और हैं तो इस बात को कभी न भूलें।

3 ) खुद की तुलना दूसरों से कभी न करे :

आजकल सब लोग अपने अच्छे अच्छे पल सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं और यह बहुत बड़ा सत्य है कि सब लोग एक जैस3 नहीं होते और न ही उनके जीवन एक जैसे होते हैं। कई बार लोग अपनी कल्पना दूसरों से करने लगते है कि उसकी जिंदगी इतनी अच्छी है उसके पास ये है मेरे पास कुछ भी नहीं है जिससे आप दुखी और कभी कभी चिड़चिड़े भी हो जाते हैं तो आखिर क्या आपको नही लगता कि यदि इस कार्य से आपकी कोई भलाई नही होती तक आपको व्यर्थ में ऐसा नही सोचना चाहिए?

4 ) हमेशा यह न सोचें कि आपकी सलाह की सुनवाई की जाएगी :

जब भी कभी आप अपने दोस्त या परिवार के सदस्य को दुखी देखते हैं तो आपके मन में उसकी मदद करने का विचार आता होगा। आप ज़रूर ही उसे अपना करीबी मित्र जानकर सलाह भी देते होंगे। सलाह देना बहुत अच्छी बात है किंतु यह आशा करना की वह वैसे ही करे जैसा आपने कहा सही नही है क्योंकि यह केवल आपको ठेस पहुंचाता है। क्योंकि लोग करते वही हैं जो उनका मन कहता है इसलिए व्यर्थ उम्मीदें न करें और बेहतर तो यह होगा की दुसरो के झंझटों से खुद को दूर ही रखें।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
स्वादिष्ट पकवान

मोज़रेल्ला चीज़ स्टिक्स

मज़्ज़ेदार स्नैक : मोज़रेल्ला चीज़ स्टिक्स


मोज़रेल्ला चीज़ स्टिक्स इटालियन स्नैक है। ये स्वाद में बेहद लज़ीज़ होते हैं। विदेशी होते हुए भी इनका स्वाद भारतीय पकवानों से कम नही होता। इन्हें खाने के बाद आप उंगलियाँ चाटते रह जायेंगे। इन्हें बनाना काफी सरल है और सबसे मज़्ज़ेदार बात यह है कि इसे घर के सभी सदस्य अवश्य पसन्द करेंगे।

यह स्नैक सामान्य तौर पर मोज़रेल्ला चीज़, मैदा और ब्रेडक्रम्बस से तैयार किया जाता है। यह एक पोष्टिक स्नैकहै और यह आपको पूरे दिन के लिए पर्याप्त ऊर्जा भी दे सकता है। आपके घर में कोई छोटी मोटी पार्टी हो यो यह उसमे भी बखूबी शामिल हो सकता है।

तो आइये जाने कैसे बनेंगी स्टिक्स

आवश्यक सामग्री

  • 300 ग्राम मोज़रेल्ला चीज़
  • ½ कप चने का आटा
  • 1 कप रिफाइंड आयल
  • ½ कप मैदा
  • ½ कप ब्रेडक्रम्बस
मोज़रेल्ला चीज़ स्टिक्स

तैयारी में लगने वाला समय – 120 मिनट

कैलोरी – 220

सर्विंग – 4 लोगों के लिए

विधि

  • सबसे पहले मोज़रेल्ला चीज़ को लंबा लंबा काट लें और इन्हें अलग अलग कर के रख दें।
  • मैदा और चने के आटे को एक बड़े गहरे बर्तन में डालें और इसमें आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें।
  • अब एक प्लेट में ब्रेडक्रम्बस फैला लें और उस गाढ़े पेस्ट मे एक एककर चीज़ स्टिक्स को प्लेट में फैले ब्रेडक्रम्बस में लपेट लें
  • अब एक प्लेट में पेर्चमेंट पेपर बिछाइये और इसमें ब्रेडक्रम्बस से लिपटी चीज़ स्टिक्स को इस पर रख दें। और इसके बाद इन्हें 1-2 घण्टे तक फ्रिज में रख दीजिए।
  • जब 1-2 घण्टे हो जाएं तब एक फ्राइंग पैन में तेल डालकर इन्हें सुनहरा होने तक फ्राई करें ।
  • अब इन्हें केचप ये पुदीने की चटनी के साथ सर्व करें।

विशेष

  • आप मोज़रेल्ला चीज़ स्टिक्स को इंडियन टच देने के लिए बेसन और मैदा के पेस्ट में स्वादानुसार नमक , मिर्च या काली मिर्च भी दाल सकते हैं। इससे उसका और बेहतर स्वाद आएगा।
  • अगर आप अंडा खाते हैं तो आप चने के आटे और मैदा का प्रयोग करने की जगह एगवाइट का भी प्रयोग कर सकते हैं। एगवाइट लेकर उसे अच्छे से फेंट लें और इसमें चीज़ स्टिक्स को डूबा दें।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
सुझाव

ये हैं संकेत की आप हैं तनाव से ग्रस्त

क्या ये संकेत आप भी महसूस कर रहे हैं तो हो जाएं सतर्क


तनाव जिसे अंग्रेजी में स्ट्रेस कहा जाता है आजकल यह शब्द कुसाग ज़्यादा ही सुनने को मिलता है क्योंकि हर दूसरा व्यक्ति तनाव से ग्रस्त है। तनाव के कारण तो कुछ भी हो सकते हैं। हर अलग व्यक्ति को तनाव अलग कारण से होता है परंतु सोचने की बात यह है की आखिर यह कैसे पता चले की तनाव है?

तनाव के लक्षण अत्यधिक गम्भीर नही होते परंतु आपकी हालत खराब करने के लिए काफी होते हैं। लोग इसके संकेतों को सामान्य समझते हुए अनदेखा कर देते हैं जिसके कारण उनके तनाव के स्तर बढ़ते चले जाते हैं और उनकी स्थिति और भी गम्भीर हो जाती है।

सभी लोग अपनी जीवन शैली में इतने व्यस्त हैं कि उन्हें अपने लिए भी समय नही मिलता और अपनी ज़रूरतों और समस्याओ को भी नज़रंदाज़ करते रहते हैं। आप अपने लिए इतना वक़्त तो निकाल ही सकते हैं कि अपने तनाव के संकेतों को पहचान सकें तो वक़्त रहते इन संकेतों को पहचान लें।

ये हैं संकेत तनाव ग्रस्त होने के :

  • नींद की कमी होना : यह देखा गया है की जो लोग तनाव से ग्रस्त रहते हैं वे अपनी नींद पूरी करने में असमर्थ होते हैं। नीन्द की कमी के कारण उनकी दिनचर्या खराब हो जाती है। रात को जब वे सो नही पाते तो दिमाग में में व्यर्थ बातें आती हैं जिनसे उनकी चिंता और बढ़ जाती है और चिंता के साथ तनाव भी बढ़ता जाता है। तो सतर्क हो जाएं यदि नींन्द की कमी होने लगे।
  • जल्दी थकान होना : अगर आपको कोई काम करते हुए जल्दी थकान होती है और आपको महसूस होने लगता है कि आप बस वह कार्य और नहीं कर पाएंगे तो यह भी तनावग्रस्त होने का लक्षण होता है। दरअसल यह कोई अलग चीज़ नही है यह नींन्द न आने के कारण होता है। journal of psychosomatic research में पाया गया कि जो लोग रात को ठीक से नही सो पाते वे दिन में अधिक थकान महसूस करते हैं। तो यह भी एक लक्षण है जिसपर आपको ध्यान देना चाहिए।
  • भूख न लगना या अत्यधिक भूख लगना : यदि कोई तनाव से ग्रस्त रहता है तो उसके खाने के तरीक़े काफी बदल जाते हैं। या तो इंसान को बहुत अधिक खाने का मन करने लगता है और कई लोग खाना बिलकुल खाना छोड़ देते हैं जिससे उनके स्वास्थ्य पर बहुत प्रभाव पड़ता है। इसलिए जब भी आपको लगने लगे की आपको बहुत भूख लग रही है या फिर कम भूख लग रही है तो सतर्क ही जाएँ।
  • जल्दी जल्दी गुस्सा आना : जो लोग तनाव से ग्रस्त रहते हैं उन्हें बहुत अधिक गुस्सा आता है और बहुत जल्दी आता है। ऐसा इसलिए होता है की तनावग्रस्त लोगों को ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम होती है। रक्त चाप बढ़ने के साथ गुस्सा बढ़ जाता है और इसलिए उसे जल्दी जल्दी गुस्सा आता है तो इस संकेत को भी ध्यान में रखें।
  • आपको किसी भी कार्य में ध्यान लगाने में समस्या होती है : जब मनुष्य को तनाव होता है तब उसकी एकाग्रता की क्षमता या फिर ध्यान केंद्रित करने की क्षमता अत्यधिक कम हो जाती है। काम करते हुए वह ध्यान नहीं लगा पाता जिसकी वजह से वह उस कार्य को उसके 100% तक नही कर पाता तो यह भी है एक संकेत तनावग्रस्त होने का।
  • आपका मन जल्दी भरता है : कोई भी कार्य करते करते बोरियत होने लग जाती है। चाहे कितनी भू लगन से कोई कार्य शुरू करें वे फिर भी उसे करते करते बोर ही जाते हैं। उनका मन उस काम से उछट जाता है। कही भी मन नही लगता है इसलिए इस बात का भी ध्यान रखें।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
लाइफस्टाइल

लोग आपके व्यक्तित्व के बारे में अंदाजा लगाते हैं इन बातों से

क्या आप जानते हैं ये 5 चीज़ें बताती हैं आपके व्यक्तित्व के बारे में


कई बार एक इंसान को देख के हम उसके बारे में अंदाजा लगा लेते हैं कि उस इंसान का व्यक्तित्व कैसा होगा। परंतु सोचने वाली बात यह है की आखिर वे बातें क्या हैं जो मनुष्य के व्यक्तित्व का पर्चा खोल देती हैं। हमारे पास ऐसी ही बातों की सूचि है।

जहाँ इन बातों से दूसरे इंसान के व्यक्तित्व के बाव में पता चलता है वहीं दूसरे लोग भी इन बातों से आपके में धारना बना लेते हैं इसलिए जब भी कभी आप कही जाएँ या फिर किसी से मिलें तो इन बातों का ज़रूर ध्यान रखें क्योकिं जहाँ यह आपको अच्छा दिखा सकते हैं वही ये आपके व्यक्तित्व के बारे में कुछ गलत भी दिखा सकते हैं।

ये हैं वे बातें जिन पर लोग करते हैं जज किसी भी मनुष्य को :-

1 ) आपके लिखने का तरीका – आपको यह जानकर काफी आश्चर्य होगा किन्तु यह सत्य है कि लोग आपकी राइटिंग या फिर लिखने का तरीका देखकर आपके व्यक्तित्व के बारे में काफी चीज़े पता लगा लेते हैं। एक नेशनल पेन कंपनी के रिसर्च में यह पता चला की लोगों की हैंडराइटिंग से उनके बारे में काफी चीज़े पता की जा सकती हैं उदाहरण के तौर पर छोटा लिखने वाले लोग अधिक शर्मीले यार रहस्यमयी होते हैं, उसी प्रकार जो लोग बड़ा लिखते है वे अधिक खुले होते हैं और वे हमेशा दूसरों का ध्यान खींचना चाहते हैं। जो लोग हल्के हाथ से लिखते हैं वे अधिक सेंसिटिव होते हैं और जो पेन को गढ़ाकर लिखते हैं वे केकाफी सीरियस रेहते।

2 ) आपके कपड़ों का रंग – आप यह तो जानते हैं हैं कि हर रंग का अपने एक रहस्य होता है और वह अपने पीछे कई संदेश छिपाये रहता है परंतु क्या आप यह जानते हैं कि किसी मनुष्य के कपड़ो के रंग उस मनुष्य के व्यक्तित्व के बारे में भी बताते हैं? जो लोग काले कपडे अधिक पहनते हैं उनका कला से एक अनोखा रिश्ता होता है और वे उसे बखूबी समझते हैं, जो लोग लाल कपड़े अधिक पहनते हैं वे अपनी ज़िंदगी को अच्छे से जीते हैं, जिन लोगों को हरे रंग के कपड़े पहनने का शौक होता वे अधिकतर लॉयल होते हैं और सफ़ेद कपड़े पहनने वाले लोग काफी मैचयोर होते है।

3 ) आपकी आदतें – कोई इंसान किसी चीज़ के लिए कैसे शारीरिक हरकते करता है उससे भी उसके बारे में काफी बातें पता चलती हैं जैसे की कुछ लोगों को नाख़ून चबाने की आदत होती है, कई लोग जकाफी जल्दी जल्दी बालों में हाथ फेरते रहते हैं, हँसने का तरीका इत्यादि। उदाहरण के तौर पर जो लोग नाख़ून चबाते रहते हैं वे या तो बहुत ही माहिर होते हैं या फिर वे नर्वस होते हैं।

4 ) जूते – ऐसा कहा जाता है कि इंसान का पहला इम्प्रैशन उसके जूतों से बनता है। मानसिक वैज्ञानिकों का कहना है की किसी के जूते का स्टाइल, कलर, उनकी स्थिति देखकर 90% तक इंसान की उम्र, व्यक्तिगत आय, और ओवरऑल स्टेटस का पता चल सकता है।

5 ) हाथ मिलाने का तरीका – लोगों के हाथ मिलाने के तरीके से उनके बारे में काफी बातें पता चलती हैं जैसे की जो लोग अच्छे से स्ट्रेंथ के साथ हाथ मिलाते हैं उससे उनका आत्मविश्वास झलकता है, वे अपने विचारों को व्यक्त करना चाहते हैं और हमेशा सभी मुश्किलों का सामना कर सकते हैं दूसरी ओर जो लोग थोड़ा हल्का हाथ मिलाते हैं वे नाज़ुक प्रतीत होते हैं, और वे मुश्किलो का सामना करना नही जानते।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
स्वादिष्ट पकवान

मुँह मीठा करें डोनट के साथ

ऐसे बना सकते हैं डोनट


मीठा खाने के शौक़ीन हैं और आप डोनट के दीवाने हैं तो आपको यह रेसिपी पढ़ कर बहुत ख़ुशी होगी । क्या आप भी इसे खाने के लिए बाहर काफी सारे पैसे देकर आते हैं? तो अब उस समय को अलविदा कहने का समय आ गया है।

इसे इवनिंग स्नैक या फिर डिजर्ट में शामिल करने के लिए एक दम परफेक्ट चॉइस है। आपको पता होना चाहिए की ये पसंदीदा डोनट्स आप अपने घर पर ही आसानी से बना सकते हैं तो आइये जाने कैसे बनेंगे ये स्वादिष्ट डोनट्स।

आवश्यक सामग्री

  • मैदा 2 कप
  • दूध ¾ कप
  • मक्खन ¼ कप
  • चीनी 2 टेबल स्पून
  • ड्राई एक्टिव यीस्ट 1 टी स्पून
  • तेल आवश्यकता अनुसार (तलने के लिए)
  • नमक स्वादानुसार

ग्लेज़िंग के लिए

  • पाउडर चीनी ¼ कप
  • ब्राउन चॉकलेट 100 ग्राम
  • वाइट चॉकलेट 100 ग्राम

विधि

  • सबसे पहले दूध को हल्का गरम कर लें और मक्खन को एक पैन में डालकर पिघला लें।
  • अब पिघले हुए मक्खन, नमक यीस्ट पाउडर, चीनी, और मैदा को मिक्स कर लें और इसमें गुनगुना दूध मिलाकर इस मिश्रण का आटा गूथ लें।
  • गुथे हुए आटे को टाइट हाथों से मसलकर 5-7 मिनट के लिए चिकना होने के लिए रख दें।
  • अब इस आटे से थोड़ी मोटी लोई बनाये और मोटा बेल लें। इसके परफेक्ट गोल आकार के लिए इसे ग्लास से काट लें।
  • ग्लास से काट लेने के बाद इसे बीच से बोतल की कैप से काट लें ताकि ये डोनट के आकार का बन सके।
  • अब उस बचे आटे को सारे आटे में मिलाकर और डोनट तैयार कर लीजिए।
  • सब डोनट तैयार करने के बाद इन्हें अलग प्लेट में रखकर इन पर ब्रश की मदद से तेल लगा लीजिये जिससे ये सूखेंगे नही।
  • ताकि डोनट फूलकर बड़े हो जाये इसके लिए इन्हें तलने से पहले 2 घण्टे ऐसे ही छोड़ दें।
  • अब कढ़ाई में तेल गरम हो होने के बाद इसमें उसे डाल कर  गोल्डन ब्राउन होने तक पकाएं।
  • अब एक प्लेट में चीनी पाउडर डालकर तैयार रखें और डोनट को उससे लपेट दें।

ऐसे करें ग्लेज

  • वाइट और ब्राउन दोनों तरह की चॉकलेट को पिघला लें।
  • अब कुछ को वाइट और कुछ को ब्राउन चॉकलेट में डुबोकर अलग रख दें ।
  • अब ब्राउन चॉकलेट वाले डोनट पर वाइट चॉकलेट से और वाइट चॉक्लेट वाले डोनट पर ब्राउन चॉकलेट से मनचाहे डिजाईन बनाये और इन्हें मज़े से खाएँ।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
सेहत

बियर के कुछ अनोखे फायदे

क्या आप जानते थे बियर के इन फायदों के बारे में?


आप जब भी बियर पीते हैं तो लोग आपको उसके नुक्सान के बारे में आवश्य ही बताते होंगे परंतु क्या आप जानते हैं की 1-2 बियर पीने पर कोई नुक्सान नहीं होता बल्की यह आपके लिए फायदेमंद होटी है। विज्ञान ने पाया है की इस को अगर सही मात्रा में लिया जाये तो वो सेहत के लिए काफी अच्छे और अनोखे फायदे देती हैं।

इस बात का ध्यान रखें कि हम कम से कम सेवन सेवन की बात कर रहे हैं। सेवन को ध्यान में रखते हुए इसके अनोखे फायदे निम्नलिखित हैं :-

1 ) इससे दिल से सम्बंधित बीमारियो का खतरा कम होता है। एक स्टडी में यह पाया गया कि जो लोग बियर का हेल्थी अमाउंट हर दिन पीते हैं उनमें दिल सम्बंधित रोग का खतरा 31% तक कम था। बियर में नाट्र्सल एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते है जिन्हें फेनोल्स कहा जाता है और वे हृदय को स्वस्थ रखते हैं। परंतु उसमे यह भी पाया गया की जो लोग अत्यधिक मात्रा में पीते हैं उनमें दिल के रोगों का खतरा बढ़ जाता है।

2 ) यह अल्झाइमर जैसी बीमारी से शरीर की रक्षा करता है। शिकागो की एक यूनिवर्सिटी में यह पाया गया कि जो लोग बियर पीते हैं उनमें डेमेंटिया और बाकी संज्ञानात्मक समस्याएं जिनमे अल्झाइमर भी शामिल ह वे 21% तक कम होती हैं। इस में मौजूद सिलिकॉन कंटेट शरीर में एल्युमीनियम के ओरभाव कोकम करता है तो अल्झाइमर होने से बचाता है।

3 ) इस के कुछ अनोखे फायदों में से एक है यह की इससे डायबिटीज का खतरा कम होता है। 2011 की एक हार्वर्ड स्टडी के अनुसार 38000 मध्य आयुवर्ग के पुरुष जो सामान्य रूप से इसे पीते हैं उनमे 23% तक डायबिटीज टाइप 2 का खतरा कम होता है। इस में मौजूद अल्कोहोल इन्सुलिन सेंसिटिविटी को बढ़ाता है जिससे डायबिटीज होने का खतरा कम हो जाता है।

4 ) इससे किडनी में होने वाली पथरी की समस्या कम हो जाती है । फ़िनलैंड में की गयी एक स्टडी में पाया गया कि जो लोग बियर को सही तरह से लेते हैं उनमे इस समस्या का खतरा 40% तक कम हो जाता है। इसका कारण यह है कि बियर में औसतन 93% पानी होता है जो हानिकारक टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर निकाल देते हैं जिससे पथरी जैसी समस्या भी दूर होती है।

5 ) इससे कैंसर का खतरा कम होता है। बियर में एक अनोखा एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जिसे xanthohumol कहा जाता है। इस एंटीऑक्सीडेंट में जबरदस्त एंटी-कैंसर प्रॉपर्टीज होती हैं। बियर का सेवन करने से महिलाओं में भी काफी हद तक ब्रैस्ट कैंसर की संभावना कम हो जाती है। इससे शरीर में ऐसे केमिकल रिएक्शन नही होते जिनसे कैंसर जो।

6 ) बियर का यदि सही मात्रा में सेवन किया जाये तो इससे रक्तचाप भी सही रहता हैं। आपको यह काफी रोचक लगेगा किन्तु यह सत्य है की इससे रक्त चाप सही रहता है। हार्वर्ड स्टडी के अनुसार 25-40 साल की महिलाएं जो बियर पीती हैं उन्हें हाई ब्लड प्रेशर की समस्या कम होती है उनके मुकाबले जो वाइन या व्हिस्की पीती हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
सेहत

खाद्य पदार्थ जो बढा देते हैं दिमाग की क्षमता काम के दौरान

बढ़ानी है दिमाग की क्षमता तो ज़रूर सेवन कीजिए इन चीज़ों का

जिन लोगों की नौकरी पूरे दिन की होती है, वे सुबह घर से निकल कर शाम को या फिर रात को ही घर आते हैं उन लोगों को काफी ऊर्जा की ज़रूरत होती है ताकी वे पूरे दिन अपने दिमाग से बराबर काम ले सकें। अधिकतर ऐसे लोग उन खाद्य पदार्थों को चुनते हैं जो या तो बने बनाये उन्हें मिल जाएं या फिर जल्दी से बन जाये और ऐसे केवल फ़ास्ट फूड्स होते हैं। इस कारण उनकी ईटिंग हैबिट्स अनहेल्थी हो जाति हैं। आपको यह सोचना बन्द कर देना चाहिए की यदि आपका पेट भर गया है तो आपके दिमाग को भी सही ऊर्जा मिलेगी और दिमाग की क्षमता बढ़ जायेगी। असल में बात यह है की जो भी खाना हम खाते हैं उसका एक अच्छा खासा प्रभाव हमारे दिमाग पर पड़ता है। कुछ खाद्य पदार्थ अच्छे होते हैं और कुछ अच्छे नही होते हैं और कुछ सुपरफूड्स होते हैं जो उत्पादकता और दिमागी क्षमता को बढ़ाते हैं।

क्या आपको नही लगता कि आपकी उत्पादकता बढ़ने और दिमागी क्षमता बढ़ने से आपका ही फायदा होगा। हम जानते हैं कि इसका जवाब हाँ ही है इसीलिए हमने सुपरफूड्स की एक सूची बनाई है ताकि आप उसे अपने दैनिक जीवन में शामिल कर सकें ।

  • साल्मन (salmon fish) : US National Library of Medicine National institute of Health के मुताबिक मनुष्य के दिमाग में 60% फैट होता है और यह तो सभी जानते है कि साल्मन में प्रचूर मात्रा में फैट होता है। इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड्स होते हैं जो याद रखने की क्षमता को बढ़ाते हैं इसलिए साल्मन को ब्रेन फ़ूड कहना अनुचित नही होगा।
  • बेरी (berries) : दिमाग की क्षमता बढ़ाने के लिए एंटीऑक्सीडेंट्स की काफी ज़रूरत होती है। औऱ बेरी जैसे फल में वे काफी अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। यह साफ़ है की अगर आप बेरीज खाएंगे तो आपकी याद करने की क्षमता बढ़ेगी और आप बेहतर तरीके से अपना काम भी कर पाएँगे। तो आप इन्हें ज़रूर अपने खाने में शामिल करें।

  • ऐवकाडो (avocados) : हालाँकि यह भारत का फल नही है मुख्य रूप से इनकी पैदावार कनाडा में होती है परंतु ये भारत में भी उपलब्ध होते हैं। ये स्वादिष्ट तो होते ही हैं और साथ ही साथ पोष्टिक भी हते है। इनमे हेल्थी फैट्स होते हैं जो रक्त संचार को बढ़ाते हैं और ब्रेन सेल्स को स्टिमुलेट कर  फोकस करने की क्षमता को बेहतर बनाता है इसलिए अवोकेडो ब्रेन के लिए काफी अच्छे होते हैं।
  • पानी (water) : हम सभी यह तो जानते ही हैं की पानी कितना महत्वपूर्ण है और दिन में 8 गिलास पानी पीने के बारे में भी सभी जानते हैं। पानी एक मशीन के लिए तेल की तरह है। शरीर के सभी कार्य ठीक तरह से हों उसके लिए पानी पीते रहना चाहिए। पानी के कमी से सिर दर्द होता है जिसके कारण मनुष्य ठीक से काम नही कर पाता इसलिए काम करते करते सही मात्रा में पानी पीते रहें।
  • केले (bananas) : केले में ग्लूकोस की भरपूर मात्रा होती है। एक केले में इतना ग्लूकोस होता है जितना पूरे एक दिन में हमारे शरीर के लिए ज़रूरी होता है। ये फ़ास्ट फूड्स से ज़्यादा बेहतर होते हैं। और यह तो सभी जानते हैं कि केले को nature’s energy bar कहा जाता है। ये सही मात्रा में ऊर्जा प्रदान कर आपको औऱ अधिक उत्पादक बनाता है।
  • डार्क चॉकलेट (dark chocolate) : डार्क चॉकलेट खाना सभी लोगों को पसंद होता है। ये स्वादिष्ट होती हैं और चॉकलेट लवर्स को यह जानकर ख़ुशी होगी की चॉक्लेट सेहत के लिए भी अच्छी होती है। ईसमे कैफीन होता है जो शरीर को ऊर्जा  देते हैं और ध्यान केंद्रित करने की क्षमता को बढ़ाते हैं। इसलिए डार्क चॉकलेट यदि आप काम करते वक़्त खाएं तो आपके लिए बेहतर होगा।
Categories
बिना श्रेणी

घर पर ही बनाये न्यू ईयर केक

इस बार न्यू ईयर पर बनाये ये ख़ास पल्म न्यू ईयर केक

न्यू ईयर की पार्टी केक के बिना तो अधूरी ही रहती है। आप हर साल बाहर से केक लाते होंगे । लेकिन इस बार हमारे पास आपके न्यू ईयर केक के लिए ऐसी रेसिपी है की वह आसानी से तो बनेगी ही और साथ ही साथ उसका स्वाद में भी कोई जवाब नही होगा।

आप सभी लोगों का जब प्लम केक खाने का मन करता होगा तब आपको उसे खरीदने बाजार जाना पड़ता होगा। परंतु क्या आप यह जानते हैं कि आप स्वादिष्ट प्लम केक घर पर ही बना सकते हैं इसके लिए आपको थोड़े सामान की ज़रूरत होगी और थोड़े समय की।

तो आइये जाने स्वादिष्ट प्लम केक की रेसिपी

आवश्यक सामग्री

  • 250 ग्राम केक मिक्स
  • 150 मिली लीटर दूध फुल क्रीम
  • एक चम्मच दालचीनी पाउडर
  • 100 ग्राम कटा हुआ आलूबुखारा
  • 60 ग्राम बिना नमक वाला मक्खन
  • 30 ग्राम कटे हुए बादाम
  • चीनी स्वादानुसार

कुल समय : 45 मिनट

तैयारी मे लगने वाला समय : 15 मिनट

कैलोरी : 542

विधि

  • सबसे पहले ओवन को 180 डिग्री सेल्सियस पर प्री हीट कर लें।
  • एक बड़े बर्तन में केक मिक्स, दूध, चीनी, दालचीनी, मक्खन, मिलाकर अच्छे से मिक्स कर लें।
  • जब मिश्रण अच्छे से मिक्स हो जाये और वह स्मूथ लगने लगे तो इसमें कटे हुए बादाम और आलूबुखारे के पीस डाल दें ।
  • बेकिंग पैन में बटर लगाकर पैन को अच्छे से ग्रीस कर लें। अब इसमें बैटर को डाल दें।
  • बैटर को केक बनने के लिए 30 मिनट तक प्रेहीटेड ओवन में बेक करें।
  • केक को आधे घण्टे बाद चेक करें। चेक करने के लिए आप टूथपिक या चसख का प्रयोग कर सकते हैं। यदि वह बिलकुल साफ़ बाहर आये तो केक बन गया है और नही तो उसे थोड़ी देर और बेक करें।
  • अब इस केक को पैन से बाहर निकाल लें। और ठंडा होने के लिए रख दें।
  • आपका केक तैयार है।

विशेष : आप चाहें तो इसे गर्म भी सर्व कर सकती हैं सर्दियों में यह गर्म भी अच्छा लगेगा। इसे आप रेफ्रिजरेट कर ठंडा भी सर्व कर सकती हैं और साथ में आइसिंग शुगर से सजाकर भी सर्व कर सकती हैं।

Categories
स्वादिष्ट पकवान

घर पर ही बनाएं रेस्तरां जैसा चिल्ली पनीर

चिल्ली पनीर


चिल्ली पनीर एक बहुत ही स्वादिष्ट रेसिपी है। यह वेजीटेरियन रेसिपी है और इसे बनाना भी काफी आसान है। इसकी रेसिपि जानने के बाद आपका यह वहम दूर हो जायेगा की चिल्ली पनीर केवल रेस्तरां का ही अच्छा होता है। इसे घर पर भी काफी लज़ीज़ बनाया जा सकता है और आपके घरवाले भी उँगलियाँ चाटते रह जायेंगे।

आप इसे अपनी न्यू ईयर की पार्टी के मेनयु में भी शामिल कर सकते हैं। यह आपका किसी भी पार्टी का मेन्यू बन सकता है। मेहमानों को सर्व करने के लिए यह बेस्ट डिश रहेगी। आप चाहे तो इसे स्नैक के रूप में सर्व कर सकते हैं या फिर राइस और नूडल्स के साथ भी सर्व कर सकते हैं।

तो आइये जानें कैसे बनेंगे ये लज़ीज़ चिल्ली पनीर

आवश्यक सामग्री

  • 250 ग्राम चौकोर कटा हुआ पनीर
  • बारीक कटा हुआ शिमला मिर्च
  • 4 लेहसुन की कली
  • 1 चम्मच टोमैटो केचप
  • 1 चम्मच सफेद सिरका
  • 1 कप वेजिटेबल स्टॉक
  • 2 कटे हुए प्याज
  • 8 कटी हुई हरी मिर्च
  • 2 चम्मच सोया सॉस
  • 2 चम्मच रिफाइंड
  • 2 चम्मच कॉर्न स्टार्च
  • नमक स्वादानुसार
चिल्ली पनीर

यहाँ पढ़ें : ऐसे बनेगा स्वादिष्ट ब्रेड पोहा

विधि

  • पनीर के टुकड़ों पर अच्छे से कॉर्न स्टार्च डाल दें। अब यह कॉर्न स्टार्च को पनीर पर अच्छे से चिपक जाना चाहिए और ध्यान रखें कि पनीर के टुकड़े टूटे न।
  • एक कढ़ाई में रिफाइंड डालकर गरम होने रख दें। जब पानीर के टुकड़े ब्राउन होने लगें तो इन्हें बाहर निकाल लें।
  • एक मध्यम आकार के प्याज को 8 हिस्सो में काट लें। शिमलामिर्च और हरी मिर्च भी काटकर एक साइड पर रख लें।
  • कॉर्न स्टार्च, टोमैटो केचप और सफ़ेद सिरका और वेजिटेबल स्टॉक मिलाकर अलग रख लें।
  • सॉसपैन मेज तेल डालें और इसमें लेहसुन को ब्राउन होने तक पीसे। लेहसुन जे पक जाने के बाद इसमें प्याज और शिमलामिर्च डाल लें और साथ में हरी मिर्च भी डाल दें। करीब 30 सेकंड तक तेज़ आंच पर पकाएं।
  • अब जो कॉर्न स्टार्च और सॉस का मिश्रण बनाया था उसे गैस पर पकाकर गाढ़ा सॉस बना लें। जब यह गाढ़ा हो इसमें पनीर और बाकी सब डाल दें।
  • आपका चिल्ली पनीर तैयार है। आप इसमें अपनी जरूरत अनुसार लाल मिर्च भी दाल सकते हैं।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in