हॉट टॉपिक्स

आठवें दिन किसान संगठन और सरकार के बीच की बातचीत रही बेनतीजा

आज कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिले अमित शाह


किसान आंदोलन के आठवें दिन भी कोई समाधान नहीं निकला पाया है. आज लगभग साढ़े सात घंटे तक किसान संगठनों और सरकार के बीच चली बैठक बेनतीजा रही. अगली बैठक 5 दिसंबर को होगी.

आज हुई बैठक से पहले किसान आंदोलन की बैठक के दौरान हुए लंच में किसानों ने सरकार के खाने को मनाकर दिया. ब्रेक के दौरान सिंघु बॉर्डर से आये खाने को किसानों ने खाया. किसानों के बने लंगर से ही विज्ञान भवन में खाना लाया गया था. खाना सफेद रंग की एम्बुलेंस में लाया गया था.

सरकार के साथ हो रही बैठक में कविता तालुकदार अकेली महिला बैठक का हिस्सा बनी. कविता एक समाज सेविका भी है. बैठक के दौरान कविता ने अपने सवालों से कृषि मंत्रालय के पदाधिकारियों के पसीने छुड़ा दिए.

और पढ़ें: एनडीए सरकार में जितने भी कानूनों में संसोधन किया गया, ज्यादातर का जनता ने विरोध किया है

आज दोपहर 12 बजे शुरु हुई बैठक में एक बार फिर एमएसपी की बात को रखा. संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से 10 पन्नों का एक खाखा सरकार को सौंपा गया.  इस खाखे में पांच मुख्य बातें कही गई थी. जिसमें शामिल है एपीएमसी एक्ट 17 पॉइंट पर असहमति, एसेंशियल कमोडिटी एक्ट 8, कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग  एक्ट 12 पॉइंट पर असहमति जताई है.

किसान आंदोलन के 8वें दिन दिन आज पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह गृहमंत्री अमित शाह से मिले. बैठक के बाद उन्होंने कहा यह सरकार और किसानों के बीच का मामला है मैं इसमें कुछ नहीं कर सकता. मैं चाहता हूं जल्द से जल्द इसमें कोई समाधान निकाला जाए.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button