भारत

लिंग अनुपात में सुधार की खास पहल… बेटी के जन्म पर अस्पताल देगा यह खास तोहफा!

हमेशा से देखा गया है अस्पताल में बेटों के जन्म पर खुशियां मनाई जाती है, मिठाईयां बांटी जाती है यहां तक कि नर्सों को मुहं मांगा इनाम दिया जाता है। लेकिन इसके विपरित जब बेटी जन्म लेती है तब पता ही नही चलता, कब बच्चे ने जन्म लिया और कब उसे डिस्चार्ज कर दिया गया।

लिंग अनुपात में सुधार की खास पहल... बेटी के जन्म पर अस्पताल देगा यह खास तोहफा!
बेटी बचाओ

इसी प्रथा को तोड़ते हुए गुजरात के अहमदाबाद में एक अस्पताल ने बेटियों की अहमित समझाने के लिए एक अनोखा कदम उठाया है। सिंधु सेवा समाज के सिंधु अस्पताल में अब से बेटी के जन्म पर फीस नही ली जाएगी।

जी हां, अब जब भी इस अस्पताल में बेटी जन्म लेगी, अस्पताल रजिस्ट्रेशन फीस उसके माता-पिता को वापस लौटा देगा। यही नहीं, बेटी के होने की खुशी में अस्पताल में केक काटा जाएगा और उसके रिश्तेदारों के लिए पार्टी आयोजित की जाएगी।

बेटी बचाओ आंदोलन के तहत अस्पताल और वहां के डॉक्टरों ने यह स्पेशल कदम उठाया है। आपको बता दें, गुजरात में 1000 लड़को पर 890 लड़कियों का अनुपात है।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button