पॉलिटिक्स

अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाने के बाद टैंकर घोटाले में एसीबी पहुंचे कपिल मिश्रा

सरकारी गवाह बनने को तैयार


दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा द्वारा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर लगाए गाए आरोपों की जांच एसीबी(एंटी करप्शन ब्यूरो) करेगी। इससे पहले रविवार को कपिल मिश्रा राज्यपाल अनिल बैजल से मिलें। और मामले की शिकायत की। जिसे अब राज्यपाल ने एसीबी को सौंप दिया है। राज्यपाल ने सात दिन के अंदर इस मामले से जुड़ी रिपोर्ट मांगी है।
सीबीआई से करवाएंगे जांच
इस बीच दिल्ली के पूर्व जलमंत्री कपिल मिश्रा टैंकर घोटाले में सबूत लेकर एसीबी दफ्तर पहुंच। एसीबी दफ्तर से निकलने के बाद कपिल मिश्रा ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री को टैंकर घोटाले में बचाने की कोशिश की है।
जिसके सारे सबूत उन्होंने एसीबी को सौंप किए है। साथ ही कहा कि अगर जरुरत पड़ी तो वह सरकारी गवाह बन जाएंगे। वह लाइ डिटेक्टर टेस्ट के लिए भी तैयार है। कपिल मिश्रा ने कहा केजरीवाल पर लगाए आरोपों की जांच वह सीबीआई से करवाएंगे।

kapil_mishra_pti_650x400_636297418172940072

कपिल मिश्रा


शीला दीक्षित को बचाने की कोशिश
टैंकर घोटाले के मामले में कपिल मिश्रा ने एसीबी अधिकारियों से कहा कि केजरीवाल सरकार से पूर्व मुख्यमंत्री को बचाने की कोशिश की है।
साथ ही आरोप लगाया है कि टैंकर घोटाले में अरविंद केजरीवाल और उनके दो साथियों आशीष तलवार और विभव कुमार ने जांच को प्रभावित किया है। शीला दीक्षित को बचाने की कोशिश की गई।
इससे पहले कपिल मिश्रा ने मामले से जुड़े दस्तावेज को एसीबी को सौंप दिया है। साथ ही कहा कि अगर मामले में जरुरत पड़ी तो वह सरकारी गवाह बन जाएंगे।
दो करोड़ कैश लेते देखा है
आपको बता दें रविवार को कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया था सीएम आवास पर केजरीवाल को मंत्री सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपये कैश लेते हुए देखा है। उन्होंने सारा घटना अपने आंखों से देखा है। इसके साथ ही कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया है कि जैन ने केजरीवाल के एक केजरीवाल के एक सगे रिश्तेदार के लिए 50 करोड़ की लैंड डील करवाई है।
मामले में अब तक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इन आरोपों पर भी तक कोई जवाब नहीं दिया है।
इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने कपिल मिश्रा को उनके पद से हटा दिया था।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।