Categories
भारत

जानें, 70 सालों में देश की महिलाओं का योगदान

देश को आजाद हुए आज 70 साल हो गए है। इन 70 सालों में देश में कई बदलाव हुए हैं। आईटी मूवमेंट से लेकर देश में बुलेट ट्रेन लाने तक कई तरह के बदलाव आए हैं।

देश में इतने बड़े बदलाव में महिलाओं का भी उतना ही योगदान है जितना की पुरुषों का है। घर के चौके से लेकर ऑफिस और खेत से लेकर संसद तक हर जगह महिलाओं का ही दबदबा है।

भारतीय महिलाएं

देश में पहला आम चुनाव 1951-52 में हुआ था। पहले आम चुनाव में 22 महिलाएं सांसद देश से मनोनीत होकर लोकसभा में आई थी। 70 सालों में अब लोकसभा में 66 महिला सांसद है।

देश में महिलाओं की शक्ति बढ़ती जा रही है। अब महिलाएं सिर्फ घर की चारदीवारी तक ही सीमित ही नहीं रह गई है। आज भारतीय महिलाएं स्पेस तक पहुंच गई है।

चलिए आज आपको बताते है कहां-कहां महिलाओं ने अपनी पहली मौजूदगी दर्ज कराई है।

इंदिरा गांधी

सबसे पहले बात राजनीति की करते है। राज घराने से संबंध रखने वाली इंदिरा गांधी देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनी वहीं विश्व की तीसरी महिला प्रधानमंत्री रही। इंदिरा गांधी द्वारा लगाई इंमरजेंसी को कैसे भूल सकते है जिसने पूरे देश को हिला कर रखा दिया था। सुमित्रा महाजन देश की पहली स्पीकर बनी और प्रतिभा पाटिल देश की पहली महिला राष्ट्रपति बनी।

शिल्पा सेठी

अब बात करते है मनोरंजन जगत की साल 2007 में एक्टर शिल्पा सेठी ने ब्रिटिश टीवी सीरियल ‘बिग ब्रदर्स’ का खिताब जीतकर गोरों के देश में अपने देश नाम ऊंचा किया। वहीं प्रियंका चोपडा और दीपिका पादुकोण ने अमेरिका की टीवी सीरियल में काम करने वाली देश की पहली महिला बनी है।

अंजू जॉर्ज बॉबी

अब बात करते है खेल है कि अंजू बॉबी जार्ज देश की पहली एथलीट है जिसने ब्रांज मेडल जीतकर वर्ल्ड चैपिंयनशिप जीतकर देश का नाम ऊंचा किया और अभी तक उसका किसी ने रिकॉर्ड नहीं तोड़ा है। सानिया मिर्जा ने टेनिस के द्वारा देश में क्रांति ला दी। सानिया देश की पहली महिला टेनिस प्लेयर बनी है। उसने सिंगल और डब्ल में खिताब जीते है। मैरी कॉम देश की पहली महिला बॉक्सर है जिसने लगातार छह वर्ल्ड चैंपियन खिताब बॉक्सिंग में जीते हैं। अब बात करते है दीपा करमाकर जो भारत की पहली जिनमॉस्ट बनी है और उम्मीद की जा रही है कि वह इस साल ओलंपिक से खिताब जीतकर ले आए।

कल्पना चावला

अब बात सांइस की, कल्पना चावला देश की पहली महिला है जो स्पेस पर गई थी। लेकिन दुर्भाग्य वह वहां से जिंदा वापस नहीं आ पाई।

अरुधंति भट्टाचार्य

अब बात करते है आर्थिक जगत की अरुंधति भट्टाचार्य की जो देश की पहली महिला है जो देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक की चैयरपर्सन बनी।

फतिमा बीबी

अब बातें की न्याय की फातिमा बीबी देश की पहली महिला है जो सुप्रीम कोर्ट पहली न्यायधीश बनी थी।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at

info@oneworldnews.in

Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments