Categories
सेहत

5 तरीक़े जिनसे आप बढ़ा सकते हैं याद करने की क्षमता

बढ़ायें याद करने की क्षमता को, केवल चंद बिंदुओं से


यह तो हम सभी जानते हैं की बादाम खाने से याद करने की क्षमता का विकास होता है परंतु क्या केवल बादाम खाना ही आपकी याद करने की क्षमता को बढ़ाने के लिए काफ़ी होगा? नही! ऐसा बिलकुल भी नही हैं। याद करना एक पूरी प्रक्रिया है जो जन्म से लेकर मरण तक चलती है। तो इसे और बेहतर बनाने के लिए केवल एक उपाय काफ़ी नही। निम्नलिखित 6 तरीक़े आपकी याद करने की क्षमता को बहतेरीन बना सकते है:-

  1. मस्तिष्क को व्यायाम कराते रहें- जब तक मनुष्य वयस्क होता है तब तक उसका मस्तिष्क पूरी तरह विकसित हो चुका होता है और चीज़ों को आसानी से करने के अनगिनत उपाय ढूँढ चुका होता है। परंतु इसका मतलब यह भी नही है की आप उससे कोई काम ही ना लें। जितना आप दिमाग़ पर ज़ोर डालेंगे उतना ही बेहतर वो काम करेगा। कुछ नया करते रहें इससे आपकी याद करने की क्षमता बढ़ती है।
  2. शारीरिक व्यायाम को ना भूलें- यह देखा गया है की कोई भी व्यायाम चाहे वह योगा हो, ऐरोबिक्स हों, या फिर डान्स ही क्यों ना हो यदि इन्हें रोज़ किआ जाए तो इनसे सोचने व समझने की शक्ति का विकास होता है। केवल आधा घंटा यदि आप तेज़ चलते है तो भी इसके परिणाम आप अपनी याद करने की क्षमता के बढ़े हुए रूप में देख पाएँगे।
  3. यहाँ पढ़ें : अच्छी नींद के फ़ायदे

  4. केवल स्वस्थ भोजन खाए- स्वस्थ भोजन अर्थात् स्वस्थ मस्तिष्क और यदि आपका मस्तिष्क स्वस्थ रहेगा तो आप अच्छे से याद भी कर पाएँगे। हम जो भोजन खाते हैं वह हमारे मस्तिष्क पर भी असर करता है। अस्वस्थ भोजन जैसे जंक या फ़ास्ट फ़ूड केवल बीमार और मोटा बनाता है। हरी सब्ज़ीयों से भरा आहार ग्रहण कीजिए इसमे वे सभी ज़रूरी पोषक तत्व होते है जो याद करने की क्षमता का विकास करते हैं।
  5. अपनी नींद पूरी करें- एक मनुष्य के अच्छे और स्वस्थ जीवन के लिए 7-8 घंटे की नींद बेहद आवश्यक है। सोने से हमारे दिमाग़ को आराम मिलता है और इस दौरान याद की जाने वाली वस्तुयें दिमाग़ में बैठ जाती हैं और इस तरह वे हमेशा याद रहती हैं। तो इस कारण सभी लोगों को पूरी नींद ग्रहण करनी चाहिए और ख़ास तौर पर विद्यार्थियों को।
  6. दोस्तों के साथ कीजीए समय व्यतीत- आप केवल घर में रहकर ही सब कुछ याद नही कर सकते। दोस्तों को साथ बाहर समय व्यतीत करने से आपको बाहर की दुनिया को जानने का मौक़ा मिलता है जिससे आपकी सोच और समझ आपको एक नए मुक़ाम पर लेकर जाती है। ऐसे मौक़े को ना छोड़े क्योंकि यह भी याद तेज़ करने में सहायक है।

याद रखना हम सभी के लिए ज़रूरी है। क्योंकि बातों को भूल जाना केवल आपके लिए ही नुक़सानदायी है। अब उदाहरण एक ऐसे पति का ले लेते हैं जो अपनी सालग्रह भूल गया हो। उससे ज़्यादा चिंतित व्यक्ति नही हो सकता। तो इसलिए याद रखना केवल बच्चों के लिए नही बड़ों के लिए भी आवश्यक है। और ये तरीक़े इतने आसान है की मस्ती करते करते आप अपनी याद करने की क्षमता को बढ़ा सकते हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Subscribe
Notify of
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments