102 साल की उम्र लगाई दौड़, जीता गोल्ड मैडल


 102 साल की मन कौर ने की सबके लिए मिसाल खड़ी 


जिस उम्र में इंसान बिस्तर पर आराम  करता है उस उम्र में इस बुजुर्ग महिला ने कई लोगो के लिए मिसाल खड़ी कर दी है. जी हाँ 102  साल की उम्र में इस महिला ने 200  मीटर की दौड़ लगाकर अपने नाम गोल्ड मैडल कर लिया। कहते है न की जब किसी चीज करने का जूनून  सर पर होता है तो दुनियाभी आपको वो चीज करने से रोक नहीं सकती है. यही चीज़ इस 102 साल की  बुजुर्ग महिला ने कर दिखाई.

man kaur 102
man kaur 102

जानते हैं आखिर कौन मन कौर ?

102 साल की मन कौर पंजाब के पटियाला की रहने वाली है . जिस उम्र में लोग अपने पैरों पर सही से खड़े भी नहीं हो पाते हैं उस उम्र में इस बुज़ुर्ग महिला ने दौड़ में गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रौशन किया है. मन कौर रोज सुबह 4 बजे उठकर लगातार दौड़ और पैदल चलने का अभ्यास भी करती हैं. इसके अलावा वो इस उम्र में भी 20 किलोमीटर तक दौड़ लगाती हैं.आज उन्होंने कई लोग के लिए मिसाल खड़ी  कर दी है।  साथ ही यह साबित कर दिया है की बढ़ती उम्र  से कुछ नहीं  होता  दिल हमेशा जवान रहता  है.

यहाँ भी पढ़े : जिस तरह पढ़ने की कोई उम्र सीमा नहीं होती उसी तरह काम करने की भी कोई उम्र सीमा नहीं होती

स्पेन के मलागा में 100 से 104 साल के बुज़ुर्गों के लिए  ‘वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स’ प्रतियोगिता आयोजन किया गया था। जिसमें मन कौर ने 200 मीटर की दौड़ 3 मिनट 14 सेकेंड में पूरी कर गोल्ड मेडल हासिल किया. ये पहली बार नहीं है जब मन कौर ने कोई रेस जीती हो. पिछले साल न्यूज़ीलैंड के ऑकलैंड में आयोजित ‘वर्ल्ड मास्टर्स गेम’ के दौरान भी इस बुजुर्ग  महिला ने 100 मीटर की दौड़ में गोल्ड मेडल जीता था. तब से वो अभी तक लगातार गोल्ड मैडल जीत रही है .

यह काफी चौकन  वाली बात है की 102 साल कि उम्र  में दौड़  लगाना  काफी बड़ी बात है. लोग एथलीट बनने का सपना बच्चे  स्कूल से शुरू कर देते है. लेकिन इस 102  साल की बुजुर्ग महिला ने अपना यह सपना 93  साल की उम्र में आकर  पूरा  किया है.  कई गोल्ड मैडल  भी जीते है.  सच में जीना इसी का नाम है.

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Story By : AvatarNeha Singh
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
%d bloggers like this: